Posted in R S S

Santosh Kumar Agrawal's photo.
Santosh Kumar Agrawal's photo.
Santosh Kumar Agrawal's photo.
Santosh Kumar Agrawal's photo.
Santosh Kumar Agrawal added 4 new photos.

परम आदरणीय मोहन भागवत जी को दूरदर्शन पर देखकर जिसके जिसके सीने में दर्द उठा हो ,और जो ये मानता हो की सरकारी संसाधनो का दुरूपयोग हुआ है, वो कृपया कर के जबाब दे की…. ??
1, 1986 में दूरदर्शन से राजीव गांधी के मेहमान इटली के पोप दुितीये, की विजिट का पूरा प्रसारण दूरदर्शन पर हुआ था क्यों ….???
2 , दिसंबर 2006 में पोप बेनिडिक्ट मास का सीधा प्रसारण किया गया दूरदर्शन से क्यों ….???
3, दूरदर्शन से ही 25 दिसंबर 2013 को पोप फ्रांसिस के भाषण का सीधा प्रसारण किया गया क्यों ..?
4, 2012 में कोहिमा नागालैंड से वपिस्ट चर्च के प्लेटिनियम जुबली का सीधा प्रसारण हुवा क्यों ..??
5, 2007 और 2013 को सोनिया गांधी के AICC ( आल इंडिया कांग्रेस कमेटी) के भाषण का सीधा प्रसारण हुवा क्यों …….??
क्या कांग्रेस पार्टी के लिए था दूरदर्शन …….???
6, दूरदर्शन श्री नगर से रोज बाइबल को पढ़ कर सीधा प्रसारण होता था जो बाद में बंद कर दिया गया कभी किसी ने सवाल पूछा की क्यों किया जाता था ….???
अब तो हद ही हो गयी भाइयो इन रामचन्दर गुहा जैसे विदेशी दलालो की……जय मातृभूमि…अब देश नहीं झुकने देंगे……

Posted in R S S

1958 में पाकिस्तान के राष्ट्रीय अख़बार ने लिखा था……


1958 में पाकिस्तान के राष्ट्रीय अख़बार ने लिखा था…………..

अगर RSS की स्थापना 10 साल देर से होती तो पाकिस्तान की सीमा आगरा तक होती… RSS एक ऐसा महासागर है जिसके अन्दर दोगले लोगो की गन्दी मानसिकता को अप अन्दर समाने की शक्ति है। अगर आज RSS न होता तो देश में इतने अलगाववादी संगठन होते ,की उनको संभालना मुश्किल होता ! ये वो ही RSS है जिसने 1984 में हजारों सिक्खों को कांग्रेस के गुंडों से बचाया था ! ये वो ही RSS हैं जिसने भागलपुर के हिन्दू -मुस्लिम दंगो में – इंसानों की सेवा की थी ! RSS वो संगठन है जिसके अन्दर भारत की आत्मा बसी है। देश प्रेम और सेवा इसका मुख्या आधार है … ये कांग्रेस के दुष्प्रचार से कभी भी आहत नहीं हुआ है ! RSS तो जहर को अपने अन्दर आत्मसात करके – लोगो को अमृत देता है। आज भी देश के किसी भी हिस्से में कोई आपदा आती है – तो सबसे पहले RSS लोगो की सहायता के लिए पहुचता है और बिना किसी भेदभाव के इंसानों की सेवा करता है! RSS दुनिया का सबसे बडा स्वयंसेवी संगठन है … और जब तक RSS है ,तब तक भारत अखंड है

Posted in R S S

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ


राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ऐक वटवृक्ष है जिसके कई तने और कई शाखाये है।
संघ दुनिया के लगभग 80 से अधिक देशो में कार्यरत है।”संघ के लगभग 50 से ज्यादा संगठन राष्ट्रीय ओर अंतराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त है ओर लगभग 200 से अधिक संघठन क्षेत्रीय प्रभाव रखते हैं।
जिसमे कुछ प्रमुख संगठन है जो संघ की विचारधारा को आधार मानकर राष्ट्र और सामाज के बीच सक्रीय है।जिनमे कुछ राष्ट्रवादी,साम ाजिक, राजनेतिक, युवा वर्गे के बीच में कार्य करने वाले,शिक्षा के क्षेत्र में,सेवा के क्षेत्र में,सुरक्षा के क्षेत्र में,धर्म और संस्कृति के क्षेत्र में, संतो के बीच में, विदेशो में,अन्य कई क्षेत्रो में संघ परिवार के संघठन सक्रीय रहते है,जिनमे प्रमुख है:-
🐅विश्व हिन्दू परिषद्
🐅 बजरंगदल
🐅अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद्
🐅सेवा भारती
🐅भारतीय किसान संघ
🐅भारतीय जनता पार्टी
🐅भारतीय मजदूर संघ
🐅भारतीय शिक्षक संघ
🐅विद्या भारती-सरस्वती शिशु मंदिर
🐅भारतीय स्वाभिमान मंच
🐅स्वदेशी जागरण मंच
🐅धर्म जागरण विभाग
🐅युवा क्रांति मंच
🐅नव निर्माण मंच
🐅श्रीराम सेना
🐅भारत जागो!-विश्व जगाओ
🐅धर्म रक्षा मंच
🐅संस्कृति रक्षा मंच
🐅हिन्दू स्वयंसेवक संघ
🐅प्रवासी भारतीय संघ
🐅मुस्लिम राष्ट्रीय मंच
🐅नर्मदा बचाओ जागरण मंच
🐅धर्मांतरण विरुद्ध विभाग
🐅वनवासी कल्याण परिषद्
🐅एकल विद्यालय योजना
🐅दुर्गा वाहिनी
🐅मातृशक्ति
🐅राष्ट्र सेविका
🐅ग्राम भारती
🐅🐅🐅🐅🐅🐅🐅🐅🐅🐅🐅

आओ नमन करे इस मातृभूमि को
और दुनिया के सबसे बड़े संघठन से जुड़े।।

🚩हिंदुत्व का आधार।

“संघ शक्ति”🐅🐅🐅

(और)
🚩”संघ परिवार”!!🚩

Posted in R S S

कश्मीर के बाढ़ पीडितो की मदद RSS कर रही है.


कश्मीर के बाढ़ पीडितो की मदद RSS कर रही है..और ये विदेशी मजहब वाले इराक के सुन्नी आतंकियों की तरफ से शिया मुसलमानों को मारने के लिए विदेश जा रहे है..असल में इनकी मानसिक नागरिकता विदेशी होती है..
हैदराबाद. तेलंगाना पुलिस ने ISIS (हत्यारे सुन्नी मुसलमानों का आतंकी संगठन ) ज्वाइन करने की मंशा रखने वाले 15 मुस्लिम इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स को पश्चिम बंगाल में ढूंढ निकाला है।

पुलिस ने न तो इन छात्रों का अरेस्ट किया है और न ही इन पर कोई केस दर्ज किया है। पुलिस इनसे पूछताछ कर कई अहम जानकारी हासिल कर रही है। अब तक की पूछताछ में छात्रों ने एक लड़की समेत कई छात्रों के नाम बताए हैं, जो आईएसआईएस के लिए लड़ने इराक जाने की फिराक में हैं। इन छात्रों ने पश्चिम बंगाल से हवाई मार्ग से इराक जाने का प्लान बनाया था। एक हफ्ते से गायब चल रहे इन छात्रों के अभिभावकों द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के बाद पुलिस इस मामले में सक्रिय हुई। पुलिस पूछताछ में खुलासा हुआ है देश में ISIS का खतरा जितना भांपा गया है, उससे कहीं अधिक है।

सिमी से भी जुड़े हैं तार
पुलिस ने इस मामले के मास्टरमाइंड शख्स की पहचान करीमनगर के एक छात्र के तौर पर की है। इसी छात्र ने सोशल नेटवर्किंग साइट्स के माध्यम से ‘जिहाद’ का आइडिया छात्रों के बीच फैलाया। इस काम में छात्र की मदद उसके एक रिश्तेदार ने की जो सिमी का सक्रिय सदस्य रहा है और आतंकवादी वारदात के एक मामले में भी आरोपित है।

कोड वर्ड में बात करते थे छात्र, 3.5 लाख रुपए भी मिले
15 छात्रों का यह समूह कोड लैंग्वेज के माध्यम से नियमित तौर पर एक-दूसर के संपर्क में था। मास्टरमाइंड छात्र के कहने पर समूह के बाकी लोगों ने अपने पासपोर्ट भी बनवा लिए थे। कई छात्रों को करीब 3.5 लाख रुपए भी दिए गए थे, जिसके स्रोत का पता नहीं है। पुलिस अधिकारी का कहना है, “हमने मास्टरमाइंड छात्र के परिजनों से भी बात की है और उन्हें पूरा मामला बताया है। हम इस मामले को यहीं बंद नहीं करने वाले हैं। मामले की जांच की जा रही है और हम यह जानने की कोशिश कर रहे हैं कि छात्रों को पैसे किसने भेजा।”http://www.bhaskar.com/news-ht/NAT-latest-news-in-hindi-15-hyderabad-youngsters-including-a-girl-wanted-to-join-isi-4741282-NOR.html

इस मामले में जांच कर रहे पुलिस अधिकारी का कहना है, “ISIS जिहादियों का दुष्प्रचार युवाओं को लुभा रहा है। वे दुष्प्रचार कर रहे हैं कि यदि दुनियाभर के युवा जंग में शामिल हो जाएं तो इस्लामिक स्टेट बनाने का सपना सच हो सकता है। उनके पास इस्लामिक स्टेट का एक आधारहीन विचार और उसका हासिल करने का मसकद है। उन्हें लगता है कि वे दमनकारी शासकों के खिलाफ लड़ रहे हैं और नया इस्लामिक राज्य बना रहे हैं।”
TP Shukla

कश्मीर के बाढ़ पीडितो की मदद RSS कर रही है..और ये विदेशी मजहब वाले इराक के सुन्नी आतंकियों की तरफ से शिया मुसलमानों को मारने के लिए विदेश जा रहे है..असल में इनकी मानसिक नागरिकता विदेशी होती है.. हैदराबाद. तेलंगाना पुलिस ने ISIS (हत्यारे सुन्नी मुसलमानों का आतंकी संगठन ) ज्वाइन करने की मंशा रखने वाले 15 मुस्लिम इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स को पश्चिम बंगाल में ढूंढ निकाला है। पुलिस ने न तो इन छात्रों का अरेस्ट किया है और न ही इन पर कोई केस दर्ज किया है। पुलिस इनसे पूछताछ कर कई अहम जानकारी हासिल कर रही है। अब तक की पूछताछ में छात्रों ने एक लड़की समेत कई छात्रों के नाम बताए हैं, जो आईएसआईएस के लिए लड़ने इराक जाने की फिराक में हैं। इन छात्रों ने पश्चिम बंगाल से हवाई मार्ग से इराक जाने का प्लान बनाया था। एक हफ्ते से गायब चल रहे इन छात्रों के अभिभावकों द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के बाद पुलिस इस मामले में सक्रिय हुई। पुलिस पूछताछ में खुलासा हुआ है देश में ISIS का खतरा जितना भांपा गया है, उससे कहीं अधिक है। सिमी से भी जुड़े हैं तार पुलिस ने इस मामले के मास्टरमाइंड शख्स की पहचान करीमनगर के एक छात्र के तौर पर की है। इसी छात्र ने सोशल नेटवर्किंग साइट्स के माध्यम से 'जिहाद' का आइडिया छात्रों के बीच फैलाया। इस काम में छात्र की मदद उसके एक रिश्तेदार ने की जो सिमी का सक्रिय सदस्य रहा है और आतंकवादी वारदात के एक मामले में भी आरोपित है। कोड वर्ड में बात करते थे छात्र, 3.5 लाख रुपए भी मिले 15 छात्रों का यह समूह कोड लैंग्वेज के माध्यम से नियमित तौर पर एक-दूसर के संपर्क में था। मास्टरमाइंड छात्र के कहने पर समूह के बाकी लोगों ने अपने पासपोर्ट भी बनवा लिए थे। कई छात्रों को करीब 3.5 लाख रुपए भी दिए गए थे, जिसके स्रोत का पता नहीं है। पुलिस अधिकारी का कहना है, "हमने मास्टरमाइंड छात्र के परिजनों से भी बात की है और उन्हें पूरा मामला बताया है। हम इस मामले को यहीं बंद नहीं करने वाले हैं। मामले की जांच की जा रही है और हम यह जानने की कोशिश कर रहे हैं कि छात्रों को पैसे किसने भेजा।"http://www.bhaskar.com/news-ht/NAT-latest-news-in-hindi-15-hyderabad-youngsters-including-a-girl-wanted-to-join-isi-4741282-NOR.html इस मामले में जांच कर रहे पुलिस अधिकारी का कहना है, "ISIS जिहादियों का दुष्प्रचार युवाओं को लुभा रहा है। वे दुष्प्रचार कर रहे हैं कि यदि दुनियाभर के युवा जंग में शामिल हो जाएं तो इस्लामिक स्टेट बनाने का सपना सच हो सकता है। उनके पास इस्लामिक स्टेट का एक आधारहीन विचार और उसका हासिल करने का मसकद है। उन्हें लगता है कि वे दमनकारी शासकों के खिलाफ लड़ रहे हैं और नया इस्लामिक राज्य बना रहे हैं।" TP Shukla
Posted in R S S

आरएसएस


1958 में पाकिस्तान के राष्ट्रीय अख़बार ने
लिखा था…अगर आरएसएस की स्थापना 10 साल देर से
होतीतो पाकिस्तान की सीमा आगरा तक होती…आरएसएस
एक ऐसा महासागर है जिसके अन्दर
दोगलेलोगो की गन्दी मानसिकता को अपने अन्दर
समानेकी शक्ति है।अगर आज आरएसएस न होता तो देश में
इतने अलगाववादीसंगठन होते ,की उनको संभालना मुश्किल
होता !
ये वो ही आरएसएस है जिसने 84 में
हजारों सिक्खों को कांग्रेस के गुंडों से बचाया था !ये
वो ही आरएसएस हैं जिसने भागलपुर के हिन्दू –
मुस्लिमदंगो में -इंसानों की सेवा की थी !
आरएसएस वो संगठन है जिसके अन्दर भारत
की आत्मा बसी है। देश प्रेम और सेवा इसका मुख्या आधार
है …ये कांग्रेस के दुष्प्रचार से कभी भी आहत नहीं हुआ है !
आरएसएस तो जहर को अपने अन्दर आत्मसात करके –
लोगो को अमृत देता है।जिस संघठन के लिए
माँ भारती ही सर्वोच्च हो वो संघठन गलत कैसे
हो सकता है …
आज भी देश के किसी भी हिस्से में कोई आपदा आती है –
तो सबसे पहले आरएसएस लोगो की सहायता के
लिएपहुचता है और बिना किसी भेदभाव के
इंसानों की सेवा करता है
आरएसएस दुनिया का सबसे बडा स्वयंसेवी संगठन है —
-जय माँ भारती
-जय हिन्द