Posted in PM Narendra Modi

अम्बानी ,अदानी, सिंघवी, टाटा, बिरला, माल्या, ललित मोदी, 

*ये मोदी के कार्यकाल में अरबपति बने थे क्या ???*
क्या 85 अरबपतियों को जो 90 हजार करोड़ का लोन दिया गया था 

*क्या वो मोदी के समय दिया गया …??*
जिस भी अफसर के घर छापा डाला जाए… तो करोड़ रुपये तो उसके गद्दे के नीचे ही मिल जाते है …

*क्या ये मोदी के काल में कमाए गये ….????*
*किस हद की मूर्खता पूर्ण देश भर में बातें है .*
मोदी के काल में तो माल्या के 8000 करोड़ के लोन के जवाब में ED ने उसकी 9120 करोड़ की संम्पत्ति को कब्जे में ले लिया है ..
*बस यही गलती हुई है कि मोदी अकेला भ्रष्ट लोगो के खिलाफ लड़ रहा है…*
और 
*हमारे देश में नमक और नमकहराम दोनों पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं ….*
व्यक्तिगत रूप से आप *बीजेपी के विरोधी* हो सकते हैं।

बीजेपी की नीतियों के विरोधी हो सकते हैं ये एक सामान्य प्रकिया है.. 

और इसमें कुछ गलत भी नहीं है…
           परंतु आप आलोचक की हद को पार करके *घृणित-निंदक* बनकर *PM की आलोचना* कैसे कर सकते हैं…?😳
               आप उस व्यक्ति की आलोचना कर रहे हैं जो लगभग 15 सालों से CM के बाद, अब PM रहते हुए  भी अपनी सैलेरी राष्ट्र को दान करता आ रहा है PM हाउस में अपना खर्चा स्वं उठाता आ रहा है..।
             *Pm की निंदा-रस* में डूबते समय क्या आपको खयाल आया है कि क्या आपने कभी 1 महीने की सैलेरी राष्ट्र को दान किया है…?🤔😳🤔
    ₹-240 की LPG-Subsidy तो आप छोड़ नहीं पाते, बाकी.. क्या आप में हिम्मत है 1 साल की सैलेरी *राष्ट्र को दान कर दें…?*
         तो फिर आप उस व्यक्ति की निंदा कैसे कर सकते हैं जो 15 सालों  से ये सब करता आ रहा है….?🤔😳😰😡
            3 बार गुजरात का CM रहने के बावजूद किसके पास कोई *बड़ी संपत्ति नहीं* है, परिवार को भी जिसने VIP सुविधाओं से महरूम कर रखा है ।
       जिस PM के विदेशी दौरों को  आप सिर्फ घूमने फिरने  का नाम देते हैं जबकि असली उदेश्य *व्यापारिक समझौते और आपसी सम्बन्ध को सुधारना* होता है।
        एक 66 साल का व्यक्ति 6 दिन में 5 देशों की यात्रा करता 40 महत्वपूर्ण मीटिंग में भाग लेता है। *देश का पैसा बचाने के लिए* ऐसी प्लानिंग करता है जिससे होटल में कम से कम रुका जाए, और, फ्लाइट में नींद पूरी की जाये….

उसके दौरे को आप सिर्फ भ्रमण का नाम देते हैं..

🤔😳🤔
                  अगली बार PM की निंदा करने से पहले *अपने गिरेबान में झांककर देखें* और-

अपने आप से तुलना करें कि जिसकी आप निंदा कर रहे हैं, क्या उसके *पैरों की धूल के बराबर* आप हैं या नहीं..?🤔
अपने देश के प्रधानमंत्री की गरिमा को मज़बूत बनायें  *निवेदन है, यह मैसेज अपने सभी व्हाट्सएप्प कांटेक्ट ओर फेसबुक पर जरूर शेयर करे..* और *उन सभी को कहे की आप भी अपने व्हाट्सएप्प कांटेक्ट ओर फेसबुक दोस्तों में शेयर करे*, हम सब *बलिदान* ना सही पर *देश के लिए इस छोटा सा काम तो कर ही सकते हैं ना:*
*देश को नहीं, पहले खुद को बदलें।*

Posted in PM Narendra Modi

पूरा जरूर पढना….

1990 की घटना..

आसाम से दो सहेलियाँ रेलवे में भर्ती हेतु गुजरात रवाना हुई. रास्ते में एक स्टेशन पर गाडी बदलकर आगे का सफ़र उन्हें तय करना था लेकिन पहली गाड़ी में कुछ लड़को ने उनसे छेड़-छाड़ की इस वजह से अगली गाड़ी में तो कम से कम सफ़र सुखद हो यह आशा मन में रखकर भगवान से प्रार्थना करते हुए दोनों सहेलियाँ स्टेशन पर उतर गयी और भागते हुए रिजरवेशन चार्ट तक वे पहुची और चार्ट देखने लगी.चार्ट देख दोनों परेशान और भयभीत हो गयी क्यों की उनका रिजर्वेशन कन्फर्म नहीं हो पाया था.

मायूस और न चाहते उन्होंने नज़दीक खड़े TC से गाड़ी में जगह देने के लिए विनती की TC ने भी गाड़ी आने पर कोशिश करने का आश्वासन दिया….एक दूसरे को शाश्वती देते दोनों गाड़ी का इंतज़ार करने लगीआख़िरकार गाड़ी आ ही गयी और दोनों जैसे तैसे कर गाड़ी में एक जगह बैठ गए…अब सामने देखा तो क्या! 

सामने दो पुरूष बैठे थे. पिछले सफ़र में हुई बदसलूकी कैसे भूल जाती लेकिन अब वहा बैठने के अलावा कोई चारा भी नहीं था क्यों की उस डिब्बे में कोई और जगह ख़ाली भी नहीं थी।गाडी निकल चुकी थी और दोनों की निगाहें TC को ढूंढ रही थी शायद कोई दूसरी जगह मिल जाये……कुछ समय बाद गर्दी को काटते हुए TC वहा पहुँच गया और कहने लगा कही जगह नहीं और इस सीट का भी रिजर्वेशन अगले स्टेशन से हो चूका है कृपया आप अगले स्टेशन पर दूसरी जगह देख लीजिये.यह सुनते ही दोनों के पैरो तले जैसे जमीन ही खिसक गयी क्यों की रात का सफ़र जो था.गाड़ी तेज़ी से आगे बढ़ने लगी . जैसे जैसे अगला स्टेशन पास आने लगा दोनों परेशान होने लगी लेकिन सामने बैठे पुरूष उनके परेशानी के साथ भय की अवस्था बड़े बारीकी से देख रहे थे जैसे अगला स्टेशन आया दोनो पुरूष उठ खड़े हो गए और चल दिये….अब दोनों लड़कियो ने उनकी जगह पकड़ ली और गाड़ी निकल पड़ी कुछ क्षणों बाद वो नौजवान वापस आये और कुछ कहे बिना निचे सो गए ।दोनों सहेलियाँ यह देख अचम्भित हो गयी और डर भी रही थी जिस प्रकार सुबह के सफ़र में हुआ उसे याद कर डरते सहमते सो गयी….सुबह चाय वाले की आवाज़ सुन नींद खुली दोनों ने उन पुरूषों को धन्यवाद कहा तो उनमे से एक पुरूष ने कहा ” बेहेन जी गुजरात में कोई मदद चाहिए हो तो जरुर बताना ” …अब दोनों सहेलियों का उनके बारे में मत बदल चूका था खुद को बिना रोके एक लड़की ने अपनी बुक निकाली और उनसे अपना नाम और संपर्क लिखने को कहा…दोनों ने अपना नाम और पता बुक में लिखा और “हमारा स्टेशन आ गया है”

ऐसा कह उतर गए और गर्दी में कही गुम हो गए !

दोनों सहेलियों ने उस बुक में लिखे नाम पढ़े वो नाम थे #नरेंद्र_मोदी और शंकर सिंह #वाघेला……

वह लेखिका फ़िलहाल General Manager of the centre for railwayinformation system Indian railway New Delhi में कार्यरत है और यह लेख 

“The Hindu “इस अंग्रेजी पेपर में पेज नं 1 पर 

“A train journey and two names to remember ” इस नाम से दिनांक 1 जुन 2014 को प्रकाशित हुआ है… !

तो क्या आप अब भी ये सोचते है की हमने गलत #प्रधानमन्त्री चुना है?

Posted in PM Narendra Modi

​अच्छे दिन 

अच्छे दिन 
एक समय था कि अफगानिस्तान में बौद्ध मंदिरों को तोपों से उड़ा दिया गया था। और आज वहां के राष्ट्रपति हमारे मुल्क के इतने पक्के दोस्त हैं कि हमारे देश पे आतंकवादी हमला हुआ तो उन्होंने दक्षेस सम्मलेन में पाक जाने से मना कर दिया ।
एक समय था जब ईरान हमारी एक नहीं सुनता था, आज उन्हीं ने भारत को चाबहार बंदरगाह बनाने और ईरान में अपनी फौजें रखने की इज़ाज़त दे दी।
एक समय था कि नार्थ ईस्ट में terrorists हमला करके म्यांमार भाग जाते थे । आज वहां की सरकार के सहयोग से इंडियन आर्मी ने वहीं जा के उनके terrorist capms तबाह कर दिए ।
एक समय था जब खाड़ी देश पाक का साथ देते थे । दाउद बरसों तक दुबई में शरण लिए रहा। आज सउदी अरब ने दाउद की संपत्ति ही जब्त कर ली ।
एक समय था जब खाड़ी देश भारत को कमजोर और गरीब समझते थे,

आज अचानक क्या हुआ जो उन्हीं ने भारत के PM के आगमन पे अपने यहाँ पहला हिन्दू मंदिर बनाने के लिए जमीन दे दी ।
आज अचानक क्या हुआ जो बुर्ज खलीफा तिरंगे में रंगा दिखने लगा ?
आज अचानक क्या हुआ जो हमारी 26 जनवरी की परेड में UAE का फौजी दस्ता शामिल हुआ ?
आज अचानक क्या हुआ जो भारत में इतनी हिम्मत आ गयी कि चीन से लगे  अरुणाचल के बॉर्डर पर भारत ने सड़कें बना ली, हवाई पट्टी बना ली, 100 मिसाइल भी तैनात कर दिए और टैंक की डीवीजन पोस्ट कर दी ?
आज अचानक क्या हुआ जो USA के नवनिर्वाचित प्रेजिडेंट ने रूस , चीन, पाकिस्तान आदि देशों से पहले भारत के PM को फोन करके आभार व्यक्त किया ?

आज अचानक क्या हुआ जो ऑस्ट्रेलिया, इंडिया को यूरेनियम देने को राजी हो गया ?
आज अचानक जापान ने इंडिया के साथ युद्धाभ्यास किया ?
तब मन ने जवाब दिया कि ये सब परिवर्तन आये मात्र तीन साल में नरेंद्र मोदी के आगमन के साथ ।
प्रश्न– क्या भारत में नरेंद्र मोदी के आलावा वर्तमान नेताओं जैसे कि लालू, मुलायम, अखिलेश, सोनिया, ममता, केजरीवाल आदि में कोई नेता है इस कैलिबर का जो इस प्रकार विश्व को झुका ले ?

Copied

Posted in PM Narendra Modi

योगी जी

योगी जी को गाली देने वालों को समर्पित:
👉जिस आयु में तुम अपने बाप की अय्याशियों के मजे ले रहे थे, उस छोटी सी आयु मे वो अपने घर का सुख छोड़कर सन्यासी हो गया था।
👉जब तुम अपने घर भरने के लिए दूसरों के घर उजाड़ रहे थे, वो उन उजड़े हुए घरों को संवारने का रास्ता खोज रहा था।
👉तुम या तुम्हारा संबधी यदि एक छोटा पार्षद भी बन जाये तो 5 वर्षों में करोड़ों कमा लेते हो, वो 19 वर्षों से सांसद है, पर 1 रुपया भी अपने लिए नहीं कमाया।
➡”योगी” केवल एक शब्द या एक व्यक्ति नहीं है, ये तो त्याग और तपस्या से अर्जित किया हुआ आध्यात्मिक ज्ञानकोष है जो अपने प्रकाश से समाज को जाग्रत और संवर्धित करता है।


#योगी_आदित्यनाथ_एक_विचित्र_व्यक्तित्व
एक बार योगी आदित्यनाथ की जाति का विरोध करने से पहले एक मर्तबा उनकी जीवल शैली भी देख ली होती तो इतना जहर न फेंकते…
आज भी उनके कमरे में 1 #सोफा तो छोड़ो दीवान भी नहीं है… नीचे जमींन पर सोते हैं… सुबह 3 बजे पूजा करने से लेकर पहनने के लिए कुछ कपड़ो के सिवा सिर्फ कुछ किताबें हैं 10by8 के कमरे मे… इसके सिवा कुछ नहीं…
आज भी सारे सन्यासियो वाली परंपराओं का संपूर्ण पालन करते हैं, जो एक #सन्यासी की बाधाएं होती है… सांसद होने के बावजूद कोई शानोशौकत नहीं ली…
क्या यही चीज किसी #मौलाना के साथ देखी है क्या??अगर अब भी दिमाग में सवाल है तो शीशा अपनी तरफ घुमा लेना हमेशा दुसरो की तरफ घुमाने की बजाय…

Posted in PM Narendra Modi

What Media is not telling about Yogiji

What Media is not telling about Yogiji 👇
1.Yogiji is a director of about 10 excellent Colleges in eastern UP wherin free / concessional education is given.

2. Yogiji is also running Hospital wherein concessional/ free medical treatments are given.

3.Everyday free food is given to thousands of poor people in Gorakhpur.

4.Yogiji holds Janata Darbar everyday whenever in Gorakhpur in which thousands of people partipate and he solves their problems.

5.Yogiji has been the youngest MP of 12th Loksabha in 1998 and is continuously winning as MP

Posted in PM Narendra Modi

60 साल देश पर राज करने वालो दोगलो अच्छे दिन इन्हें कहते हैं

अच्छा_सुनो

हाफिज सईद नजरबंद है !

दाऊद की संपत्ति सऊदी में जब्त हो गयी !

नवाज शरीफ गायत्री मंत्र सुन रहे है !

UAE ने पाकिस्तानियो का प्रवेश रोक दिया !

खलीफा आरती कर रहे हैं !

ऑस्ट्रेलिया यूरेनियम देने लगा !

कश्मीर में तिरंगा फहराने लगा !

अरुणाचल में रोड बना के सेना और मिसाईल तैनात हो गए !

जापान और इसराइल मित्र हो गए !

हथियारों की टेक्नोलॉजी देने को अमेरिका राजी !

लोग सड़क किनारे न जाके शौचालय बनवा रहे हैं !

काली कमाई वाले सर पीट रहे हैं !

गायत्री खुद प्रकट हो रहे है !

आधे जे ज्यादा भारत वंदे मातरम बोल रहा है !

आजम खान रो रहे हैं !

जाकिर नाइक जैसे गद्दार देश से भाग गए !

सेना का सीना चौड़ा हो गया !

अरहर और चना झुक गए !

104 उपग्रह का रिकार्ड देख अमेरिका हैरान है !

सेना पाकिस्तान में घुस के ठोक आती है !
अमर्त्य सेन खुद नोटबंदी की सफलता से हैरान हैं !

60 साल देश पर राज करने वालो दोगलो अच्छे दिन इन्हें कहते हैं

Posted in PM Narendra Modi

अपने जमाने की सुपर डुपर मेगा हिट फिल्म थी जॉनी मेरा नाम

अपने जमाने की सुपर डुपर मेगा हिट फिल्म थी जॉनी मेरा नाम …… देवं साब की फिल्म थी जिसे उनके छोटे भाई Goldy आनंद ने डायरेक्ट किया था । …वो फिल्म Thriller फिल्मों में मील का पत्थर है । उसकी गिनती Bollywood की महानतम फिल्मों में होती है ।

📽..फिल्म का खलनायक प्रेम नाथ है । उसने अपने सगे बड़े भाई ( अभिनेता सज्जन ) को अपने अड्डे के तहखाने में बरसों से बंद कर रखा है जिसे खोजते हुए उसकी बेटी हेमा मालिनी प्रेम नाथ के अड्डे पे जा पहुँचती है ।
📽…फिल्म के climax में दोनों भाइयों सज्जन और प्रेमनाथ का संवाद है ।

🤕..सज्जन पूछता है कि…. आखिर तुझे मुझसे समस्या क्या है ?

आखिर मेरा दोष क्या है जो मुझे तू इतनी बड़ी सज़ा दे रहा है ?

👹प्रेम नाथ जवाब देता है ……..तुम्हारा दोष ये है कि
….👉🏼तुम बेहद शरीफ आदमी हो ।
बेहद ईमानदार हो ।
और तुम्हारी इस शराफत , इस ईमानदारी ने बचपन से ही मेरा जीना हराम कर रखा है ।

👉🏼शराब तुम नहीं पीते , जूआ तुम नहीं खेलते । अय्याशी तुम नहीं करते ।

👉🏼 तुम्हारी ये शराफत मुझे परेशान करती है । तुम्हारी अच्छाई मुझे बुरा बनाती है । अगर तुम भी बुरे होते तो मुझे कोई परेशानी न होती ।

🤔🤔🤔🤔👹🤔🤔🤔🤔

आज विपक्ष की भी यही समस्या है …

🙏🏼मोदी साल में 365 दिन , प्रतिदिन 18 से 20 घंटे काम करते हैं ।

🙏🏼शराब नहीं पीते ।

🙏🏼अय्याशी नहीं करते ।

🙏🏼भ्रष्ट नहीं हैं ।

🙏🏼आगे पीछे कोई बेटा ,बेटी , बहू , दामाद , साली , सरहज , भाई , भतीजा , भांजा नहीं है उनका , जिसके लिए वो धन संग्रह करें ।

🙏🏼उनका ऐसा कोई रिश्तेदार नहीं है जो दिल्ली की सत्ता के गलियारों में घूम के रोब ग़ालिब करे और दलाली करे ।

🙏🏼मोदी की समस्या ये है कि उनको हर weekend पे अय्याशी करने यूरोप अमेरिका नहीं जाना है ।

🙏🏼 मोदी की समस्या ये है कि वो कोकीन नहीं पीते ।

🙏🏼मोदी की समस्या ये है कि उनको bangkok में मालिश कराने का शौक नहीं है ।

🙏🏼मोदी की समस्या ये है कि किसी swiss bank में उनका कोई खाता नहीं है ।

🙏🏼मोदी की समस्या ये है कि उनके तहखानों में 1000 और 500 की गड्डियाँ नहीं सड़ रहीं ।

👉🏼मोदी की ईमानदारी , मोदी की देश भक्ति , मोदी की वफादारी ही मोदी की सबसे बड़ी समस्या है ।

🤗ज़ाहिर सी बात है …….

👉🏼 आज की राजनीति में मोदी अन्य नेताओं ( भाजपा समेत ) के लिए एक समस्या बन गए हैं ।

👉🏼👉🏼👉🏼कड़वा सत्य ये है कि
आज मोदी के साथ भारत की जनता के अलावा और कोई नहीं है ।
खुद उनके भाजपा के कई सहयोगी भी नहीं , क्योंकि मोदी ने उन सबको भी पिछली 8 Nov को भिखारी बना दिया है ।

(साभार दीपक कपूर)