Posted in Love Jihad

लव जेहाद कैसे होता है?


लव जेहाद कैसे होता है?

(हिन्दू लड़किया सावधान)पोस्ट लंम्बी है पर जिन्दगी इससे जरूरी है इसलिए पढें.

1. मुस्लिम लडको को मौलवियो व अन्य इस्लामिक संगठन द्वारा हिंदू लडकियो को फ़साने को ना केवल प्रोत्साहित किया जाता हैं अपितु इनाम के तौर पर या कहे घर बसाने के नाम पर बड़ी रकम भी रखी जाती हैं | ये रकम जेहाद के नाम पर, जकात के नाम पर, जिज्या के नाम या आपके द्वारा पेट्रोल पर दी हुई रकम से ली जाती हैं |

2. कम से कम 4-5 लड़के (ज्यादा भी हो सकते हैं ) आपस में मिल के हिंदू लडकियो को चुनते हैं फ़साने के लिए | मुस्लमान हमेशा समूह में रहते हैं अपने कायर स्वाभाव की वजह से इसलिए उन हिंदू लडकियो को बचाना इतना सरल नहीं होता |

3. ये लड़के गर्ल्स कालेज के बाहर, कंप्यूटर संसथान के बाहर या अंदर, या कोचिंग संस्थानों के आसपास रहते हैं | कभी-2 लेडिस टेलर की दुकान पर 4-5 लड़के लगे ही रहते हैं | इन्टरनेट पर सोशल नेटवर्क से लेकर याहू चैट रूम तक हर वो जगह जहा इन्हें हिंदू लड़किया मिल सकती हैं वहा ये लगे रहते हैं घात में |( इसलिए हिन्दू लड़किया. किसी अनजान लड़के भले ही हिन्दू हो उसे फेसबुक पर add न करें).

4. ज्यादातर मौको पर ये लड़के खुद को हिंदू ही दिखाने का प्रयास करते हैं | अच्छा मोबाइल सेट, कपडे, वा मोटर साइकिल आकर्षण के तौर पर इनका हथियार होते हैं | जिम में घंटो कसरत भी ये लोंग इसी लिए करते हैं ताकि अधिक से अधिक हिंदू लड़किया फसा सके |

5. दक्षिण भारत में तो मुल्ला मौलवी इन लडको के लिए पर्सोनालिटी डेवेलोप्मेंट कोर्से चलवा देते हैं | किस तरह बात की जाए लडकियो से , उन्हें कैसे तोहफे दिए जाए | और किस प्रकार सेक्युलर बन कर उनसे सिर्फ प्यार मोहब्बत की बात कर के खूबसूरत सपने दिखाए जाए |

6. फिल्म उद्योग में बढते खान मेनिया से ये अब और भी सरल हो गया हैं | ज्यादातर हीरो खान होते हैं ऐसी मानसिकता लड़कियों में तेजी से बढ़ रही हैं जो की समाज के लिए बहुत की घातक हैं |

7. अगर हिंदू लड़की निश्चित समय में नहीं फसती तो लव जेहादी अपने किसी दूसरे मित्र को उसके पीछे लगा देता हैं और खुद किसी और के पीछे लग जाता हैं | इसे लड़की फॉरवर्ड करना कहते हैं |

8. जल्द ही ये लड़के भोली भाली हिंदू लडकियो को अपने प्यार के जाल में फसा लेते हैं | उनमे से कई तो शारीरिक सम्बन्ध भी स्थापित कर लेते हैं | ज्यादातर घटनाओ में मुस्लिम लड़के वाईग्रा का इस्तेमाल करते हैं ताकि लड़किया संतुष्ट रहे और उनके खानपान से आई नापुसकता छुपी रहे |

9. एक बार लड़की से सम्बन्ध स्थापित हो गए तो लड़की को घर से भागने के लिए मनाने में इन्हें देर नहीं लगती | कही बार ये पहले भी मना लेते हैं पर ऐसा कम ही होता हैं |

10. भगा के लड़का लड़की को शादी से पहले इस्लाम कुबूल करने पर मजबूर करा लेता हैं इस्लामी तरीके से शादी के नाम पर और लड़की फस जाती हैं जाल में क्यों की लड़की को वापस जाने की बात तो दिमाग में आती ही नहीं |

11. लड़की को भगा के इस्लामिक शादी कर ले जाने के बाद लड़की के साथ निम्न में से एक घटना होती हैं

क ) लड़का लड़की का पूरी तरह भोग कर के उसके शहर से चार पाच सौ किलोमीटर दूर बेच देता हैं किसी अधेड उम्र के मुस्लमान आदमी को जिसको उसकी बदसूरती की वजह से औरत नहीं मिली होती या उसे बस औरतो का शौक होता हैं | यानि लड़की को वैश्या व्रती के दल दल में डाल देता हैं |

ख ) लड़की को पता चलता हैं के लड़का पहले से ही 2-3 शादिया करे बैठा हैं | और उसे भी नकाब में बंद एक कमरा मिल जाता हैं |

घ ) लड़की की किस्मत अच्छी होती हैं और वो उसकी पहली बीवी ही निकलती हैं | इस पारिस्थि में लड़की नकाब में तो कैद होती हैं पर उसे अपने 2-3 सौतनो का इन्तेज़ार करना पड़ता है | और लड़के की गुलाम बन कर रह जाती हैं क्यों की वो इस्लाम कुबूल कर चुकी होती हैं और इस्लाम में औरत को तलाक का कोई अधिकार नहीं होता |

संबंधित लिंक
http://jaghindu.blogspot.in/2013/06/3.html
— with Ranganath Kulkarni and Ashok Kumar.

लव जेहाद कैसे होता है?

(हिन्दू लड़किया सावधान)पोस्ट लंम्बी है पर जिन्दगी इससे जरूरी है इसलिए पढें.

1. मुस्लिम लडको को मौलवियो व अन्य इस्लामिक संगठन द्वारा हिंदू लडकियो को फ़साने को ना केवल प्रोत्साहित किया जाता हैं अपितु इनाम के तौर पर या कहे घर बसाने के नाम पर बड़ी रकम भी रखी जाती हैं | ये रकम जेहाद के नाम पर, जकात के नाम पर, जिज्या के नाम या आपके द्वारा पेट्रोल पर दी हुई रकम से ली जाती हैं |

2. कम से कम 4-5 लड़के (ज्यादा भी हो सकते हैं ) आपस में मिल के हिंदू लडकियो को चुनते हैं फ़साने के लिए | मुस्लमान हमेशा समूह में रहते हैं अपने कायर स्वाभाव की वजह से इसलिए उन हिंदू लडकियो को बचाना इतना सरल नहीं होता |

3. ये लड़के गर्ल्स कालेज के बाहर, कंप्यूटर संसथान के बाहर या अंदर, या कोचिंग संस्थानों के आसपास रहते हैं | कभी-2 लेडिस टेलर की दुकान पर 4-5 लड़के लगे ही रहते हैं | इन्टरनेट पर सोशल नेटवर्क से लेकर याहू चैट रूम तक हर वो जगह जहा इन्हें हिंदू लड़किया मिल सकती हैं वहा ये लगे रहते हैं घात में |( इसलिए हिन्दू लड़किया. किसी अनजान लड़के भले ही हिन्दू हो उसे फेसबुक पर add न करें).

4. ज्यादातर मौको पर ये लड़के खुद को हिंदू ही दिखाने का प्रयास करते हैं | अच्छा मोबाइल सेट, कपडे, वा मोटर साइकिल आकर्षण के तौर पर इनका हथियार होते हैं | जिम में घंटो कसरत भी ये लोंग इसी लिए करते हैं ताकि अधिक से अधिक हिंदू लड़किया फसा सके |

5. दक्षिण भारत में तो मुल्ला मौलवी इन लडको के लिए पर्सोनालिटी डेवेलोप्मेंट कोर्से चलवा देते हैं | किस तरह बात की जाए लडकियो से , उन्हें कैसे तोहफे दिए जाए | और किस प्रकार सेक्युलर बन कर उनसे सिर्फ प्यार मोहब्बत की बात कर के खूबसूरत सपने दिखाए जाए |

6. फिल्म उद्योग में बढते खान मेनिया से ये अब और भी सरल हो गया हैं | ज्यादातर हीरो खान होते हैं ऐसी मानसिकता लड़कियों में तेजी से बढ़ रही हैं जो की समाज के लिए बहुत की घातक हैं |

7. अगर हिंदू लड़की निश्चित समय में नहीं फसती तो लव जेहादी अपने किसी दूसरे मित्र को उसके पीछे लगा देता हैं और खुद किसी और के पीछे लग जाता हैं | इसे लड़की फॉरवर्ड करना कहते हैं |

8. जल्द ही ये लड़के भोली भाली हिंदू लडकियो को अपने प्यार के जाल में फसा लेते हैं | उनमे से कई तो शारीरिक सम्बन्ध भी स्थापित कर लेते हैं | ज्यादातर घटनाओ में मुस्लिम लड़के वाईग्रा का इस्तेमाल करते हैं ताकि लड़किया संतुष्ट रहे और उनके खानपान से आई नापुसकता छुपी रहे |

9. एक बार लड़की से सम्बन्ध स्थापित हो गए तो लड़की को घर से भागने के लिए मनाने में इन्हें देर नहीं लगती | कही बार ये पहले भी मना लेते हैं पर ऐसा कम ही होता हैं |

10. भगा के लड़का लड़की को शादी से पहले इस्लाम कुबूल करने पर मजबूर करा लेता हैं इस्लामी तरीके से शादी के नाम पर और लड़की फस जाती हैं जाल में क्यों की लड़की को वापस जाने की बात तो दिमाग में आती ही नहीं |

11. लड़की को भगा के इस्लामिक शादी कर ले जाने के बाद लड़की के साथ निम्न में से एक घटना होती हैं

क ) लड़का लड़की का पूरी तरह भोग कर के उसके शहर से चार पाच सौ किलोमीटर दूर बेच देता हैं किसी अधेड उम्र के मुस्लमान आदमी को जिसको उसकी बदसूरती की वजह से औरत नहीं मिली होती या उसे बस औरतो का शौक होता हैं | यानि लड़की को वैश्या व्रती के दल दल में डाल देता हैं |

ख ) लड़की को पता चलता हैं के लड़का पहले से ही 2-3 शादिया करे बैठा हैं | और उसे भी नकाब में बंद एक कमरा मिल जाता हैं |

घ ) लड़की की किस्मत अच्छी होती हैं और वो उसकी पहली बीवी ही निकलती हैं | इस पारिस्थि में लड़की नकाब में तो कैद होती हैं पर उसे अपने 2-3 सौतनो का इन्तेज़ार करना पड़ता है | और लड़के की गुलाम बन कर रह जाती हैं क्यों की वो इस्लाम कुबूल कर चुकी होती हैं और इस्लाम में औरत को तलाक का कोई अधिकार नहीं होता |

संबंधित लिंक
http://jaghindu.blogspot.in/2013/06/3.html
— with Ranganath Kulkarni and Ashok Kumar.

Posted in Love Jihad

प्रेम जिहाद(Love terrorism)


प्रेम जिहाद(Love terrorism)

मुस्लिम यूथ फोरम’ नाम से मुस्लिम
शिक्षित
युवकों को लव जिहाद का खुलाआवाहन
शुरू हुआ है. इस
संदर्भ में निकले पत्रक bमेंहिंदू, सिक्ख, ईसाई
युवतियों को प्रयत्नपूर्वकप्रेमजाल में
खींचकर
उनका धर्मांतरण कराने का खुला आवाहन
किया गया है.
इसके लिए पुरस्कारों की राशि भी घोषित
की गई है.
पुरस्कारों की राशि :
हिंदू (ब्राह्मण लड़की) : ५ लाख
हिंदू (क्षत्रिय लड़की) : ४.५ लाख
हिंदू (दलित, खानाबदोश और अन्य
लड़कियॉं) : २ लाख
जैन लड़की : ३ लाख
गुजराती (ब्राह्मण लड़की) : ६लाख
गुजराती (कच्छी लड़की) : ३ लाख
पंजाबी (सिक्ख लड़की) : ७ लाख
पंजाबी (हिंदू लड़की) : ६ लाख
ईसाई (रोमन कॅथॉलिक लड़की) : ४ लाख
ईसाई (प्रोटेस्टंट लड़की) : ३लाख
बौद्ध लड़की : १.५ लाख(चित्र मे देखे)
संपर्क के लिए वेबसाईट :
ई मेल : love.jihad@yaho o.com,
salim786@gmail.com
संस्था : इस्लामिक इंटरनॅशनल स्कूल
०२२-२३७३६८७५, २३७३०६८९
जमात-उद-दावा:+९२५१२२५६१६१,
+ ९२३२१५२१३११९
व्यक्ती : जमशेद:+९२२१३५०१४०४४,
मोहम्मद चॉंद :
+९२४२३७१२०७१५,+
९२३००५२७७२३३, रेहान :
+९२४२३६६०५८१, हुसैन : +
९७१५५९९४६३७७/
३८९/९११/२२३/७८६
पत्ते : पॉप्युलर फ्रंट ऑफ इंडिया
मुख्यालय : डेक्कन हाऊस, नं. ५, मेन १, ४
थी क्रॉस
एस. के. गार्डन, बेन्सन टाऊन पोस्ट,
बेंगळुरू-५६००४६
०८०-३२९५७५३४, फॅक्स :
०८०-२३४३०४३२
ई मेल : contact@popular front.org,
popularfrontmai
l@gmail.com
वेबसाईट : http://www.popularfron
tindia.org
१ ला मजला, नमीदशा कॉम्प्लेक्स,
कब्बनपेट, बेंगळुरू-५६० ००२
०८०-३२९८३६३९, ई मेल :
contactkfd@gmai l.org
३२/२३, ५ वा मजला, मॉडर्न टॉवर,
वेस्ट कॉट रोड, रोयापेट्टा,चेन्नई-६००
०१४
०४४-६४६११९६१, ई मेल :
in@popularfront india.org
युनिटी हाऊस, राजाजी रोड,
कोझिकोडे – ६७३००४
०४९५-२७२३४४३, ई मेल :
ndfkeralam@gmai l.com
जिज्ञासु अधिक जानकारी प्राप्त करें.
मामला गंभीर है.
क्या देश में की सुरक्षा व्यवस्था,
न्यायव्यवस्था,प्रशासन
आदि संस्था इसकी दखल लेगी? या हिंदू
समाज को ही कुछ
उपाय योजना करनी होगी?
सभी लडकियां ध्यान दे…तथा अपनी सहेलियों को भी बताइये
और लडको अपनी बहनों और जान की लडकियों को यह संदेश जल्द से जल्द
पहुंचाए…पहले शेयर करे बाद में पढ़े आपको इस पोस्ट पढने में सिर्फ 2-3
मिनट लगेंगे पर किसी की जिंदगी भी बाख सकती है….
… ——————————
—————
—————————–
अगर एक मुसलमान दो हिंदू लड़कियों से शादी करके १२ बच्चे पैदा करे तो केवल २४ साल में मुस्लिम भारत पर कब्ज़ा कर लेंगे
|
हाल ही में पुलिस ने एक ऐसे ही युवक को पकड़ा है , इस युवक का नाम वसीम
अकरम है ,वह फेसबुक   दक्ष शर्मा के नाम से प्रोफाइल
बनाकर हिंदू युवतियों को फंसाता था ,फिर उनका शारीरिक शोषण करता था |
पुलिस ने अकरम को नजीराबाद से पकड़ा है |वसीम ने पूछताछ में बताया की लव जेहाद के नाम से ये सब कुछ चल रहा है , इससे जुड़े
कट्टरपंथी हिंदू लड़कियों को फंसाकर उनसे शादी कर लेते हैं , इसका मुख्या संगठन ढाका में है तथा हिंदुस्तान में इसका मुख्या संगठन केरल में है|
इस संगठन का मानना है की अगर एक मुस्लिम युवक एक हिंदू लड़की से शादी करके छः बच्चे पैदा करे तो हिंदुस्तान को इस्लामिक राष्ट्र
बनाने में ४० साल लगेंगे और अगर एक मुसलमान
दो हिंदू लड़कियों से शादी करके १२ बच्चे पैदा करे तो केवल २४ साल में मुस्लिमभारत पर कब्ज़ा कर लेंगे | वो कहते हैं की हिंदू
लड़कीसे शादी करने से एक तरफ हम हिंदू आबादी को बढ़ने
से रोकते हैं तो दूसरी तरफ मुस्लिम आबादी बढाते हैं |
अकरम ने बताया की मुल्ला मौलवी मुस्लिम
बोलीवुड सितारों से कहते हैं की वे कमसे कम दो हिंदू लड़कियों से शादी करे जिससे की देश में हिंदू लड़कियों में मुस्लिम लड़कों के
प्रति सहानुभूति बने ,वो भी सितारों की नक़ल करके मुस्लिम लड़कों के प्रेम जाल में आसानी से फंस जाएं |हिन्दुस्थान को “दारुल हरब” से “दारुल
इस्लाम” बनाने का जो इनका उद्देश्य है, ये उसी की एक कड़ी है। कुछ साल पहले
आप जानते हैं की केरल में इसके 2500 मामले सामने आये थे। जिसमे पकडे
गए आतंकवादियों ने इसके बारे में सब बताया था। और तहकीकात करने पर ये
सारे मामले सामने आये। लेकिन अब तो ये पूरे देश में फ़ैल चूका है।ये
इनका गजवा-ए-हिन्द(हिंदुस्तान पर फतह) का एक हिस्सा है,
जो इनकी (मुसलामानों की) किताबों में लिखा है।
की पाकिस्तान भविष्य में हिंदुस्तान पर फतह करेगा और पूरा हिंदुस्तान एक
मुस्लिम मुल्क होगा। आप “गजवा-ए-हिन्द” के बारे में नेट पर या यु-ट्यूब पर
सर्च कर सकते हैं। जिसमे खुद पाकिस्तानी बोल रहा है इस बारे मे|
विस्तार पूर्वक पढने के लिए क्लिक करे
https://www.dropbox.com/sh/v7ykn3xa1myxdfl/49GIqYIV_J/Love%20Jehad.pdf
इस्लाम ओर जिहाद के बारे मे जानने के लिए क्लिक करे
https://hindurashtra.wordpress.com/
YouTube http://m.youtube.com/watch?v=XqukseR2LpY&app=m
http://m.youtube.com/watch?v=5GKHLnlye1o&app=m

Posted in Love Jihad

गुजरात के सूरत में एक मुस्लिम “मोहम्मद इरशाद मंसूरी” डांस इंस्टिट्यूट चलता है जो हिन्दू लड़कियों को गरवा नृत्य सिखाता है


गुजरात के सूरत में एक मुस्लिम “मोहम्मद इरशाद मंसूरी” डांस इंस्टिट्यूट चलता है जो हिन्दू लड़कियों को गरवा नृत्य सिखाता है लेकिन ये आजकल के उच्च विचार वाली ओवर कॉंफिडेंट लड़कियां की लव जिहाद की शिकार होती है, अगर कोई इन्हें समझाए तो ये उन्हें ही उल्टा समझाने लगती है कहती है की हिन्दू मुस्लिम कुछ नही होता, सभी इंसान है लेकिन जब यही लड़कियां लव जिहाद के चंगुल में फंसती है तो उसे सिर्फ हिन्दू संगठन सूझता है, अगर किसी ने उसकी मदद की तो ठीक वरना ये किसी की नजर में आती भी नहीं और अरब देशों में बेच दी जाती है, अगर कोई बचना भी चाहे तो या तो उसका मर्डर हो जाता है या किसी थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कर ठन्डे बसते में डाल दिया जाता है, अगर कोई किसी तरह से बचकर निकल गयी तो उस वक़्त ये कहती है की मुझे बहलाया गया काम के नाम पर तो प्यार के नाम पर तो कुछ और कारणों से, यही लड़कियां कुछ दिनों पहले हिन्दू मुस्लिमों का भेद भाव हटाने चली थी लेकिन नतीजा कुछ और ही निकला, ये लड़कियां ये भूल गयी की “गाय सुखी घांस खाकर भी दूध देती है जबकि सांप दूध पीकर भी सिर्फ जहर उगलता है” यही है आज की Modern Thinking

जय हिन्द

गुजरात के सूरत में एक मुस्लिम "मोहम्मद इरशाद मंसूरी" डांस इंस्टिट्यूट चलता है जो हिन्दू लड़कियों को गरवा नृत्य सिखाता है लेकिन ये आजकल के उच्च विचार वाली ओवर कॉंफिडेंट लड़कियां की लव जिहाद की शिकार होती है, अगर कोई इन्हें समझाए तो ये उन्हें ही उल्टा समझाने लगती है कहती है की हिन्दू मुस्लिम कुछ नही होता, सभी इंसान है लेकिन जब यही लड़कियां लव जिहाद के चंगुल में फंसती है तो उसे सिर्फ हिन्दू संगठन सूझता है, अगर किसी ने उसकी मदद की तो ठीक वरना ये किसी की नजर में आती भी नहीं और अरब देशों में बेच दी जाती है, अगर कोई बचना भी चाहे तो या तो उसका मर्डर हो जाता है या किसी थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कर ठन्डे बसते में डाल दिया जाता है, अगर कोई किसी तरह से बचकर निकल गयी तो उस वक़्त ये कहती है की मुझे बहलाया गया काम के नाम पर तो प्यार के नाम पर तो कुछ और कारणों से, यही लड़कियां कुछ दिनों पहले हिन्दू मुस्लिमों का भेद भाव हटाने चली थी लेकिन नतीजा कुछ और ही निकला, ये लड़कियां ये भूल गयी की "गाय सुखी घांस खाकर भी दूध देती है जबकि सांप दूध पीकर भी सिर्फ जहर उगलता है" यही है आज की Modern Thinking

जय हिन्द
Posted in Love Jihad

तारा शाहदेव लव जेहाद मामले में पुलिस ने की लीपा-पोती, दाखिल किया सिर्फ दहेज प्रताड़ना का केस


 

तारा शाहदेव लव जेहाद मामले में पुलिस ने की लीपा-पोती, दाखिल किया सिर्फ दहेज प्रताड़ना का केस

राँची। लव जिहाद के बहुचर्चित घटना का जब पुलिस ने चार्जशीट तैयार किया तो पुलिस ले-देकर सिर्फ दहेज-प्रताड़ना का मामला बता दिया है। जी हाँ, यह हाल है रांची के पुलिस का। अंतर्राष्ट्रीय शूटर तारा शाहदेव के साथ लव जिहाद के प्रकरण में काफी दौर-भागकर पुलिस ने चार्जशीट तो दाखिल कर दी है, लेकिन पुलिस ने हद उस वक्त कर दी जब इस पूरे मामले को दहेज-प्रताड़ना से जोड़कर चार्जशीट दाखिल कर दिया।

इतना ही नहीं, पुलिस ने जो चार्जशीट दायर की है, उसमें धर्म परिवर्तन और जबरन निकाह की कोई चर्चा नहीं है। यहां तक कि तारा के बयान पर दर्ज धर्म परिवर्तन और जबरन निकाह के मामले की अब तक जांच भी नहीं की गई है। गौरतलब है कि तारा के बयान पर रंजीत सिंह कोहली उर्फ रकीबुल और उसकी मां कौशल्या उर्फ कौसर परवीन के खिलाफ दहेज प्रताड़ना समेत धर्म परिवर्तन और जबरन निकाह का आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज की गई थी। हिंदपीढ़ी थाना में पुलिस ने रकीबुल और उनकी मां कौशल्या के खिलाफ दहेज प्रताड़ना के लिए धारा 498 ए, 295 ए और 153 ए के तहत मुकदमा दर्ज किया है।
यह है पूरा मामला

लव जिहाद पीड़ित तारा शाहदेव का कहना है कि 7 जुलाई 2014 को उनकी शादी रंजीत सिंह कोहली नाम के एक व्यक्ति से हुई थी। लेकिन शादी के बाद से ही उस पर जानवरों की तरह अत्याचार होने लगे। तारा को जब पता चला कि उसके पति का नाम रंजीत सिंह नहीं बल्कि रकीबुल हसन है, तो उस पर जुल्म की इंतेहा कर दी गई। तारा पर जबरन धर्म परिवर्तन करने का दबाव बनाया जाने लगा। इस मामले को प्रकाश में आने के बाद पूरे देश में खासा हंगामा भी हुआ था। लेकिन अंततः पुलिस ने इस संगीन मामले पर लीपा-पोती कर दी।

 

Posted in Love Jihad

LOVE JIHAD


christian Convent School मे पढ़ने वाली 80% हिन्दु लड़कियाँ अपने हिंदू धर्म से आस्था खो देती हैं जिसके वजह से उनका धर्मांतरण बड़ी आसानी से हो जाता है. यह हिन्दु लड़कियाँ Muslim लड़को के प्यार के जाल मे फँस कर LOVE JIHAD का शिकार हो जाती हैं उनसे शादी कर के ISLAM कबुल कर लेती हैं या तो फिर Christian लड़को के प्यार के जाल मे फँस कर Christian धर्म अपना लेती हैं…यह भारत और हिंदुत्व के लिए बहुत बड़ा ख़तरा है..
Asaram Bapuji Destroyed Conversion and Christian Misionaries Fear thatthe Craze of Convent School and Valentine day will Vanish that’s Why Asaram Bapuji Targeted ?
Asaram Bapuji Promotes World Wide Parents Worship Day on 14 February instead of Valentines day
BBC covers the trend ‪#‎HappyParentsWorshipDay‬
The celebrations of such days as that of ‘Valentine’s ’ have been the main reason behind degeneration of moral values of the nations that have discarded the traditional sexual values, and are encouraging people to lead an immoral life.
PUJYA GURUDEV KA MAHA SANKALP:
KHATAM HOGA VALENTINE DAY OR JAGRUTI LAYEGI….
14 feb ko “Matra Pitra Poojan Divas” manaya jayega. Valentine Day ke din Shiv Sainiko ka Pehra hoga.

Posted in Love Jihad

लव जिहाद पर चर्चा केरल की मशहूर लेखिका कमला दास उर्फ़ कमला सुरैया की चर्चा किये बिना अधूरी है …


लव जिहाद पर चर्चा केरल की मशहूर
लेखिका कमला दास उर्फ़
कमला सुरैया की चर्चा किये बिना अधूरी है …
हलांकि अब ये कमला दास उर्फ़
कमला सुरैया 72 मुस्टंडो के पास जन्नत में
है …
कमला दास केरल
की जानी मानी लेखिका थी …
जो माधवी कुट्टी के नाम से
लिखती थी …और केरल की रायल परिवार से
थी और नायर थी … पति के निधन के बाद ये
अकेलेपन में थी … पति के निधन के समय
इनकी उम्र 65 साल थी … लेकिन फिर
भी इनके अंदर सेक्सुअल इच्छाए भरी थी …
तीन काफी बड़े बच्चे थे जो बड़ी बड़ी पोस्ट
पर थे ..एक बेटा माधव दास नलपत टाइम्स
ऑफ़ इंडिया का चीफ एडिटर था जो बाद में
यूनेस्को का बड़ा अधिकारी भी बना …
उसकी पत्नी त्रावनकोर स्टेट
की राजकुमारी है ..
एक बेटा चिम्मन दास विदेश
सेवा का अधिकारी है और एक बेटा केरल में
कांग्रेस से विधायक है …
इनके घर पर इनके बेटे का एक मित्र
अब्दुसमद समदानी उर्फ़ सादिक
अली जो मुस्लिम लीग पार्टी का सांसद
था और उनसे उम्र में 32 साल
छोटा था वो आता जाता था … उस मुस्लिम
लीग के सांसद ने अपनी माँ की उम्र
की कमला पर डोरे डाले और उन्हें अपने प्रेम
जाल नही बल्कि सेक्स जाल में फंसा लिया ..
क्योकि खुद कमला ने अपने और समदानी के
बीच के मुलाकातों का वर्णन ऐसे किया है जैसे
“मस्तराम” की सडकछाप किताबो में
होता है .. और कमला ने लिखा है की उम्र
बढने के साथ साथ उनकी सेक्स की चाहत
भी पता नही क्यों बढने लगी है … और मेरे
सेक्स की चाहत को अब्दुसमद समदानी ने
मिटाने को तैयार हुआ इसलिए मै उसकी मुरीद
बन गयी …
फिर बाद में कमला ने इस्लाम स्वीकार करके
अपना नाम कमला सुरैया रख लिखा …
तीनो बेटे अपनी माँ के इस कुकर्मो से इतने
आहत हुए की उन्होंने अपनी माँ से
सभी सम्बन्ध तोड़ लिए …
सबसे चौकाने वाली खबर ये थी की उनके
इस्लाम कुबूल करने पर सऊदी अरब के प्रिंस
ने अपना दूत उनके घर भेजकर उन्हें
गुलदस्ता भेजा था और भारत सरकार ने
इसका विरोध नही किया ..
फिर 2009 में उन्हें कैंसर हुआ .. और केरल
सरकार ने उन्हें पहले मुंबई फिर बाद में पुणे
की एक अस्पताल में भर्ती करवा दिया …
तीनो बेटो और सभी रिश्तेदारों ने पहले
ही उनसे सम्बन्ध तोड़ लिए थे … और
उनका मुस्लिम
पति जिसकी वो तीसरी बीबी थी वो एक बार
भी उनका हालचाल लेने नही गया था … मरने
के पहले उन्होंने लिखा “काश मुझे किसी ने
तभी गोली मार दी होती जब मै समदानी के
सेक्स जाल में फंस गयी थी … मुझे
पता ही नही चला की मुझे सिर्फ राजनीतिक
साजिश के तहत केरल की हिन्दू महिलाओ
को इस्लाम के प्रति आकर्षित करने के लिए
ही फंसाया गया था और इसमें सऊदी अरब के
कई लोग काफी हद तक शामिल है …
पुरे आठ महीने तक अस्पताल में तडप तडप
कर अपने बेटो और पोतो को याद करते करते
उन्होंने अपने प्राण त्याग दिए .. फिर केरल
सरकार ने उन्हें मालाबार के जामा मस्जिद के
बगल में कब्रिस्तान में दफना दिया
Photo: लव जिहाद पर चर्चा केरल की मशहूर
लेखिका कमला दास उर्फ़
कमला सुरैया की चर्चा किये बिना अधूरी है ...
हलांकि अब ये कमला दास उर्फ़
कमला सुरैया 72 मुस्टंडो के पास जन्नत में
है ...
कमला दास केरल
की जानी मानी लेखिका थी ...
जो माधवी कुट्टी के नाम से
लिखती थी ...और केरल की रायल परिवार से
थी और नायर थी ... पति के निधन के बाद ये
अकेलेपन में थी ... पति के निधन के समय
इनकी उम्र 65 साल थी ... लेकिन फिर
भी इनके अंदर सेक्सुअल इच्छाए भरी थी ...
तीन काफी बड़े बच्चे थे जो बड़ी बड़ी पोस्ट
पर थे ..एक बेटा माधव दास नलपत टाइम्स
ऑफ़ इंडिया का चीफ एडिटर था जो बाद में
यूनेस्को का बड़ा अधिकारी भी बना ...
उसकी पत्नी त्रावनकोर स्टेट
की राजकुमारी है ..
एक बेटा चिम्मन दास विदेश
सेवा का अधिकारी है और एक बेटा केरल में
कांग्रेस से विधायक है ...
इनके घर पर इनके बेटे का एक मित्र
अब्दुसमद समदानी उर्फ़ सादिक
अली जो मुस्लिम लीग पार्टी का सांसद
था और उनसे उम्र में 32 साल
छोटा था वो आता जाता था ... उस मुस्लिम
लीग के सांसद ने अपनी माँ की उम्र
की कमला पर डोरे डाले और उन्हें अपने प्रेम
जाल नही बल्कि सेक्स जाल में फंसा लिया ..
क्योकि खुद कमला ने अपने और समदानी के
बीच के मुलाकातों का वर्णन ऐसे किया है जैसे
"मस्तराम" की सडकछाप किताबो में
होता है .. और कमला ने लिखा है की उम्र
बढने के साथ साथ उनकी सेक्स की चाहत
भी पता नही क्यों बढने लगी है ... और मेरे
सेक्स की चाहत को अब्दुसमद समदानी ने
मिटाने को तैयार हुआ इसलिए मै उसकी मुरीद
बन गयी ...
फिर बाद में कमला ने इस्लाम स्वीकार करके
अपना नाम कमला सुरैया रख लिखा ...
तीनो बेटे अपनी माँ के इस कुकर्मो से इतने
आहत हुए की उन्होंने अपनी माँ से
सभी सम्बन्ध तोड़ लिए ...
सबसे चौकाने वाली खबर ये थी की उनके
इस्लाम कुबूल करने पर सऊदी अरब के प्रिंस
ने अपना दूत उनके घर भेजकर उन्हें
गुलदस्ता भेजा था और भारत सरकार ने
इसका विरोध नही किया ..
फिर 2009 में उन्हें कैंसर हुआ .. और केरल
सरकार ने उन्हें पहले मुंबई फिर बाद में पुणे
की एक अस्पताल में भर्ती करवा दिया ...
तीनो बेटो और सभी रिश्तेदारों ने पहले
ही उनसे सम्बन्ध तोड़ लिए थे ... और
उनका मुस्लिम
पति जिसकी वो तीसरी बीबी थी वो एक बार
भी उनका हालचाल लेने नही गया था ... मरने
के पहले उन्होंने लिखा "काश मुझे किसी ने
तभी गोली मार दी होती जब मै समदानी के
सेक्स जाल में फंस गयी थी ... मुझे
पता ही नही चला की मुझे सिर्फ राजनीतिक
साजिश के तहत केरल की हिन्दू महिलाओ
को इस्लाम के प्रति आकर्षित करने के लिए
ही फंसाया गया था और इसमें सऊदी अरब के
कई लोग काफी हद तक शामिल है ...
पुरे आठ महीने तक अस्पताल में तडप तडप
कर अपने बेटो और पोतो को याद करते करते
उन्होंने अपने प्राण त्याग दिए .. फिर केरल
सरकार ने उन्हें मालाबार के जामा मस्जिद के
बगल में कब्रिस्तान में दफना दिया
Posted in Love Jihad

आतंकी अब हिन्दू लडकियों को लव जिहाद के जरिये


आतंकी अब हिन्दू लडकियों को लव जिहाद के जरिये
उनका ब्रेनवाश करके उनको इस्लाम में शामिल करके
उनका इस्तेमाल भारत मेंआतंकी हमले में कर रहे है
इसका ताजा सुबूत कुछ दिन पहले के घटनाक्रम देखने
को मिला ..
***********
एनआईए ने जिस आयशा शेख को उसके पति जुबेर
हुसैन के साथ पटना सीरियल ब्लास्टमें गिरफ्तार किया |
आयशा के पास चालीस के ज्यादा विभिन्न बैंको केएटीएम कार्ड मिले है
और उसने
बिहार में कई बैंको में 300 खाते खुलवा रखे है और उसके खातो में
पाकिस्तान से कई करोड़ रूपये हवाला के जरिये जमा होते है जिन्हें
वो आतंकियों को देती थी |
**************
शादी के पहले ये एक सीधीसादी हिन्दू
लडकी थी जिसका नामपुत्टोली इंदिरा था इसके पिता का नाम
भीमा था | लेकिन 12 वी क्लासमें ही ये लव जिहाद का शिकार
हो गयी .. जब इसके पडोस में एकमुस्लिम परिवार रहने आया | ये
जुबेर को भैया कहती थी और उसेराखी भी बांधती थी लेकिन जुबेर ने
अपने प्रेमजाल में फंसाकर इसेइस्लाम कुबूल करवाकर निकाह कर
लिया और इसेआतंकवादी बना दिया .
***********
.जागो हिन्दू लडकियों जागो ..
और हिन्दू लड़कियों के माँ बाप को अबखास तौर पर सतर्क रहने
की जरूरत है

कृपया ईसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करें..... आतंकी अब हिन्दू लडकियों को लव जिहाद के जरिये उनका ब्रेनवाश करके उनको इस्लाम में शामिल करके उनका इस्तेमाल भारत मेंआतंकी हमले में कर रहे है इसका ताजा सुबूत कुछ दिन पहले के घटनाक्रम देखने को मिला .. *********** एनआईए ने जिस आयशा शेख को उसके पति जुबेर हुसैन के साथ पटना सीरियल ब्लास्टमें गिरफ्तार किया | आयशा के पास चालीस के ज्यादा विभिन्न बैंको केएटीएम कार्ड मिले है और उसने बिहार में कई बैंको में 300 खाते खुलवा रखे है और उसके खातो में पाकिस्तान से कई करोड़ रूपये हवाला के जरिये जमा होते है जिन्हें वो आतंकियों को देती थी | ************** शादी के पहले ये एक सीधीसादी हिन्दू लडकी थी जिसका नामपुत्टोली इंदिरा था इसके पिता का नाम भीमा था | लेकिन 12 वी क्लासमें ही ये लव जिहाद का शिकार हो गयी .. जब इसके पडोस में एकमुस्लिम परिवार रहने आया | ये जुबेर को भैया कहती थी और उसेराखी भी बांधती थी लेकिन जुबेर ने अपने प्रेमजाल में फंसाकर इसेइस्लाम कुबूल करवाकर निकाह कर लिया और इसेआतंकवादी बना दिया . *********** .जागो हिन्दू लडकियों जागो .. और हिन्दू लड़कियों के माँ बाप को अबखास तौर पर सतर्क रहने की जरूरत है
Posted in Love Jihad

क्या आप जानते है कि….. “”मेहर”” क्या है ….?????


 

1911970_868726406480653_3482298523790548913_n

दरअसल… समुचित जानकारी के अभाव में … अधिकांश लोगों का ऐसा सोचना है कि….. “”निकाह”” एवं “”विवाह”” …… दोनों एक ही हैं ….और, दोनों शब्दों में सिर्फ भाषा का अंतर है….!

जबकि ऐसा नहीं है …. और, निकाह तथा विवाह में आसमान-जमीन ….. या कहूँ तो….. गधे और घोड़े का सा अंतर है…..!

जहाँ हम हिन्दुओं में…. विवाह को एक पवित्र बंधन मान कर उसे सात जन्मों तक निभाने की कसमें खायी जाती है ….. वहीँ, “निकाह” ….. शादी नहीं…. बल्कि, “”महज एक सौदा”” होता है …!

असलियत में होता ये है कि…. जब कोई मुस्लिम लड़का…. किसी लड़की से निकाह करता है, तो मौलवी …… लड़का और लड़की दोनों से पूछते है…
“क्या आपको इतनी “”मेहर”” में फलाने से निकाह मंजूर है”……. ???????”

और….. लड़का और लड़की… दोनों के द्वारा तीन बार “कबूल है” ………बोलने पर निकाह मंज़ूर हो जाता है….!

इसीलिए…. इस्लाम में निकाह को समझने के लिए….. इस “मेहर नाम की बला” को समझना बेहद जरुरी हो जाता है….!

दरअसल….. मेहर एक राशि या रकम होती है ………..जो, लड़का……… तलाक के बाद लड़की को चुकाता है… या, देना तय करता है…

दूसरे शब्दों में आप इसे ………लड़की की कीमत भी बोल सकते हो….!

और, यह आसानी से समझा जा सकता है कि….. अगर लड़की अत्यधिक खूबसूरत हो… या किसी बड़े घर से सम्बन्ध रखती हो तो….. उसके मेहर की राशि ( उसकी कीमत) … ज्यादा होगी….
वहीँ, सामान्य रूप-रंग एवं परिवार वाले लड़की के मेहर की राशि ………कम…… अर्थात, महज कुछ सौ रूपये से लेकर ….. कुछेक हजार रुपये तक भी हो सकती है….!

कहने का मतलब कि….
तलाक के बाद …. एक बार मेहर की राशि चुका देने के बाद ….. उस तलाकशुदा लड़की की तरफ से ……. मुस्लिम लड़के की पूरी जिम्मेदारी ख़त्म मानी जाती है…. और, उसके बाद वो तलाकशुदा लड़की…. अपने भूतपूर्व पति अथवा उसकी संपत्ति पर किसी तरह का कोई दावा करने की अधिकारिणी नहीं रह जाती है….!

इस तरह…. इस्लाम में “निकाह””…….. शादी के नाम पर खुलेआम “सौदेबाजी” है….

और, सबसे मजे की बात यह है कि….. शरियत के हिसाब से {इस्लामिक कानून}……. “निकाह”” नामक ये सौदा रद्द करने की….. हर मुसलमान को खुली छुट है……..

अर्थात…. उसके सिर्फ तीन बार — तलाक-तलाक-तलाक – बोलते ही सौदा खत्म |

साथ ही…. किसी भी मौलवी और गवाहों के सामने तय – मेहर की – राशि का भुगतान किया…. और, मामला हमेशा के लिए साफ…!

ध्यान रखें कि……
इस्लाम में …….हिन्दू समाज की तरह तलाकशुदा लड़की गुजारे भत्ते की हकदार नही होती है …, क्योंकि, हमारे हिन्दू में “”मुस्लिम पर्सनल लॉ”” लागू है ……
जिसके तहत …निकाह के मामले में ….. भारतीय कानून की जगह …..मुस्लिमों का शरियत कानून ही मान्य होता है …. और, शरीयत के हिसाब से … मुस्लिम महिला ….. किसी भी तरह के गुजारे भत्ते की हकदार नही होती ..
बल्कि…. वो सिर्फ सिर्फ पहले से तय – मेहर – की ही हकदार होती है …! ( शाहबानो प्रकरण आप सब को याद ही होगा )

और तो और…..

सिर्फ मजाक में भी कहे गए….. “तीन बार तलाक” …………. भी “निकाह खारिज” करने के लिए मान्य माने जाते है …..( कई फतवों के अनुसार अब तो मोबाइल SMS भी मान्य हैं )

इस तरह….. मुस्लिम कानून अथवा शरियत के अनुसार मुस्लिम लड़का .. जितनी चाहे निकाह कर सकता है … सिर्फ उसके पास मेहर की रकम चुकाने का पैसा मौजूद होना चाहिए….!

अर्थात ……..
मुस्लिम समाज में घर की स्थिति हरम जैसी होती है…. जहाँ मुस्लिम जितनी चाहे उतनी लड़कियां खरीदकर ला सकते है……..और, उन्हें पत्नी बना कर घर में रख सकता है…
क्योकि, इस्लाम……. हर मुसलमान को कई पत्नियां रखने की अधिकार देता है… तथा, अरब देशों में कई घरों में आज भी कई-कई औरतें मिल जायेगी..!

इसीलिए …..इन सबसे तंग आकर भारतीय अदालत भी ये मान चुकी है कि— हिन्दुओ की शादी एक “संस्कार” है……. जबकि, मुसलमानों की “निकाह एक सौदा” है…..!

ज्ञातव्य है की…… हिन्दुओं के “संस्कार सात पीढ़ियों” तक निभाये जाते है,

विवाह…… हम हिन्दुओं के भारतीय संस्कृति में हमारे “16 संस्कारों मे से एक संस्कार” है………. और, हम हिन्दुओं के ये “संस्कार सात पीढ़ियों” तक निभाये जाते है…. इसीलिए , हमारे विवाह जन्म जन्मान्तर का रिश्ता होते है ..!

हम हिन्दुओं में तो….. विवाह को इतना अटूट बंधन माना जाता है कि…… भाषा के तौर पर “”हिंदी और संस्कृत”” के इतने समृद्ध होने के बावजूद भी….. “तलाक और डिवोर्स के लिए कोई हिंदी या संस्कृत शब्द मौजूद नहीं है””

यही कारण है कि……. हमारे हिन्दू सनातन धर्म में…….. तथाकथित…. तलाक अथवा डिवोर्स के लिए….. कोई “”विधि या कर्मकांड तक भी निर्धारित नहीं”” किए गए हैं….!

यहाँ तक कि….. “”हिन्दू विवाह अधिनियम”” (सरकारी कानून )… के अंतर्गत भी….. कोई हिन्दू लड़का अपनी पत्नी को ….. बिना उसकी सहमति के “किसी भी हालत में नहीं” छोड़ सकता है….. और, दुर्लभतम रूप से शादी टूटने के बाद भी…. वो हिन्दू लड़की जीवनपर्यन्त …….. अपने पूर्व पति के आधे तनख्वाह …. एवं, आधी संपत्ति की अधिकारिणी होती है…!!

इसीलिए … कोई भी कूल डूड एवं सब धर्म समभाव के कुत्सित मानसिकता से ग्रसित…… हिन्दू लडकियों को किसी मुस्लिम लड़के से……… प्यार की पींगे बढ़ाने…. अथवा, उसके साथ शादी करने के सपने संजोने से पहले….. हजार बार जरूर सोच लेना चाहिए …. क्योंकि….

ये कभी ना भूलें कि…..
“”मुस्लिम पर्सनल लॉ”” लागू होने के कारण ……. भारतीय अदालत तक में …. मुस्लिमो के केस में ……. मुस्लिमो का “शरियत कानून” ही मान्य है।

जय महाकाल…!!!

नोट : “सामान आचार संहिता” में … मुस्लिमों के इसी “पर्सनल लॉ” को ख़त्म कर …. मुस्लिम महिलाओं को भी इज्जत की जिंदगी देने के बात हो रही है…. परन्तु, आश्चर्यजनक तौर पर … खुद मुस्लिम ही इसका पुरजोर विरोध कर रहे हैं…!

Reference : 1. केरल हाईकोर्ट ने कहा :मुसलमानों की “निकाह एक सौदा” है…..! http://timesofindia.indiatimes.com/india/Muslim-marriage-is-a-civil-contract-rules-high-court/articleshow/20500887.cms

2 . शाहबानो केस डिटेल के लिए देखें :
http://www.angelfire.com/folk/indianlaws/shahbanoo.html

 

Posted in Love Jihad

लव जेहाद


॥ प्रेमजाल ॥ लव जेहाद
हिन्दू युवती जानती है की मुस्लिम से विवाह / प्रेम करने से उसका धर्म परिवर्तन होगा , 12 बालक उतपन करने होगे , उनके लफंगे के मित्र , श्वसुर , जेठ , चाचाजी सब बलात्कार करेगे , गौमांस खाना पड़ेगा , कोई भी उत्सव उनके लिए प्रतिबंधित होगे , बुर्का पहन कर काल कोटली मे आजीवन बिताना पड़ेगा ।
तथापि क्यू फस जाती है ?
आप मानो या न मानो —– तांत्रिक विधि दो प्रकार की है [1] सात्विक [2] मलिन अथवा आसुरी ।
मारण , उच्चाटन , वशीकरण संभतः मुल्ले वशीकरण ( आसुरी विद्या ) का प्रयोग करते है । युवती पर धागा तावीज पहनाकर एक प्रकार की आसुरी शक्ति मन मे प्रबल हो उठती है । ऐसी स्थिति मे आसुरी लोगो के साथ आकर्षित हो जाती है । अतः पीड़ित युवती पुलिस एवं न्यायालय मे बलात्कारी का पक्ष लेती है नहीं की अपने परिजनो का !!!!!
**** वैज्ञानिक कारण —-युवती को पटाकर कुछ नशीले पदार्थ जैसे की –डायजेयम ,LSD, केन्निबस तथा बार्बीट्यूरेटल शीतपेय मे मिलाकर पीला देते है । तत्पश्चात कुकर्म , अनैतिक कर्म , दृश्याकन अंश ( वीडियो क्लिप ) आदि से फसाई जाती है ।
एक ही उपाय है सतर्क एवं सावधान !!!!!!
आसुरी ( मलिन ) विधि से बचने का उपाय हनुमान चालीसा एवं गायत्री मंत्रो का नियमित पाठ ।

Posted in Love Jihad

लव जिहाद


लव जिहाद

आजकल का प्रचलित शब्द
और इसे लव जिहाद ही क्यों कहा जाता है
क्योंकि
ये मुसलमान युवाओं द्वारा फैलाया हुआ वो सुनियोजित मोहपाश/प्रेमजाल है जिसमें घर के कठोर अनुशासन के वातावरण में पलती कोमल मन हिंदु लड़कियाँ आसानी से फँस जाती हैं

पर अगर वो उन मुसलमान लड़कों से प्यार करती हैं तो इसमें ग़लत क्या है ???
ठीक है कि वे हिंदु लड़कियाँ उन के मोहपाश के आकर्षण में बंध कर उनसे एकतरफ़ा प्यार कर बैठती हैं
पर वो सिर्फ़ एकतरफ़ा होता है
ये मुसलमान लड़के उनसे अपनी असली पहचान छुपा कर छ्दम उपनाम रख कर स्वय्ं को उनसे परिचित कराते हैं जैसे पप्पू, मुन्नू इत्यादि
अरे अगर सच्चा प्रेम है तो अपनी असलियत छुपाते क्यों हो ??
क्योंकि प्रेम की नींव झूठ और फ़रेब पर नहीं रखी जाती
और इसमें उन्हे, उनके समाज से बाक़ायदा मदद के तौर पर प्रोत्साहन पैकेज मिलते हैं
और
वे झूठ का सहारा लेकर उन्हें अपने मोहपाश/प्रेमजाल में फँसा कर भगा कर शादी कर लेते हैं
और फिर अपनी पहचान बताते हैं
पर तब तक उस मासूम का सब कुछ लुट चुका होता है
और उसे बस बच्चे पैदा करने की मशीन बना देते हैं
और उसे उसकी सौतनों के साथ वह ज़ुल्म चुपचाप सहना पड़ता है

ये है लव जिहाद

कई बुद्धिजीवी कहते हैं कि अगर लड़का हिंदु और लड़की मुसलमान हो तो लव जिहाद नहीं होता ???
मेरा जवाब है नहीं
क्योंकि
हिंदु लड़के एेसे सुनियोजित तरीक़े से झूठ नहीं बोल सकते और बाहर हिंदु समाज से उन्हें कोई मदद नहीं मिलती
दूसरे हिंदु एक शादी प्रथा में विश्वास करते हैं

इसलिए ये सिर्फ़ मुसलमान ही कर सकते हैं ।