Posted in Amar Bangla

LOOK THIS BITCH SAYING “SHOVING BAMBOO” LIKE LOW TALK IS IS CM.

LOOK THIS BITCH SAYING “SHOVING BAMBOO” LIKE LOW TALK IS IS CM.

00:40
108,955 views

Outrage, anyone ?
—————————
Law of Bengal, Miss Mamata Banerjee , uttering delightful delicacies for the opposition in a public speech.

” Nijeyra kortey pareyni, jara korchhey sharakkhon tadeyr pechhoney ki korey bamboo dewa jay tar chinta korey jachhey.

(They couldn’t themselves work for the people, they are always trying to figure out how to shove bamboos up the… of those who are doing it),” the chief minister said.

Through the transparent lectern, the chief minister could be seen gesticulating with her right hand while she was making the bamboo references.

” Bamboo baansh-jhaarey hoy, ghorbari toiritey kaajey lagey. Ar janeyna bamboo ditey ditey bamboo jokhon tara korbey, shobai tokhon je kothay jabey, palabar poth pabey na…. Shutorang keu keu beshi kotha boley phelchhey. Kotha bola ta welcome kori jodi sheta shotto hoy

(Bamboo grows in groves and is useful in building houses. They don’t know that when the bamboo starts chasing them, they will have nowhere to go…. Therefore, some people are talking too much. I welcome talking, if what is said is true),”
Now,
Let’s wait for the politicos to stall the parliament and demand Mamta’s resignation. Or at least a panel discussion.
Will they ?

Posted in Amar Bangla

बर्दवान ब्‍लास्‍ट की जाँच कर रही NIA की टीम ने अपने रिपोर्ट में साफ-साफ कहा है कि

बर्दवान ब्‍लास्‍ट की जाँच कर रही NIA की टीम ने अपने रिपोर्ट में साफ-साफ कहा है कि
पश्चिम बंगाल के कई मदरसों ने ‘जमात-उल-मुजाहिद्दीन’ नाम की आतंकी संगठन को मजबूत करने में अहम रोल अदा किया है। संगठन के कई सदस्‍यों को न सिर्फ इस मदरसे ने सहारा दिया बल्कि इन मदरसों के घरों में ही कई तरह के हथियारों को भी छिपाकर रखा गया।

एनआईए को जमात-उल-मुजाहिद्दीन की भारत में 58 ऐसी फैक्‍ट्रीयों का पता लगा है जो बम का निर्माण करती है। यह संगठन बांग्‍लादेश का है और इसकी 43 फैक्ट्रियां अकेले मुर्शिदाबाद में हैं। इस जांच में एक और रोचक पहलू जो सामने आ रहा है उसके मुताबिक इस संगठन के ताल्‍लुक एक मदरसे इस्‍लामी छात्र शिबिर से हैं।

======================================

तो क्या यही कारण है जिसके चलते जिहादी दीदी की सरकार ने बर्दवान ब्‍लास्‍ट की जाँच कर रही NIA की टीम को सहयोग करने से इंकार कर दिया..????

बर्दवान ब्‍लास्‍ट की जाँच कर रही NIA की टीम ने अपने रिपोर्ट में साफ-साफ कहा है कि
पश्चिम बंगाल के कई मदरसों ने 'जमात-उल-मुजाहिद्दीन' नाम की आतंकी संगठन को मजबूत करने में अहम रोल अदा किया है। संगठन के कई सदस्‍यों को न सिर्फ इस मदरसे ने सहारा दिया बल्कि इन मदरसों के घरों में ही कई तरह के हथियारों को भी छिपाकर रखा गया।

एनआईए को जमात-उल-मुजाहिद्दीन की भारत में 58 ऐसी फैक्‍ट्रीयों का पता लगा है जो बम का निर्माण करती है। यह संगठन बांग्‍लादेश का है और इसकी 43 फैक्ट्रियां अकेले मुर्शिदाबाद में हैं। इस जांच में एक और रोचक पहलू जो सामने आ रहा है उसके मुताबिक इस संगठन के ताल्‍लुक एक मदरसे इस्‍लामी छात्र शिबिर से हैं।

======================================

तो क्या यही कारण है जिसके चलते जिहादी दीदी की सरकार ने बर्दवान ब्‍लास्‍ट की जाँच कर रही NIA की टीम को सहयोग करने से इंकार कर दिया..????
Posted in Amar Bangla

मोमता बानो

मोमता बानो की पार्टी TMC के दफ्तर में बम बनाते हुए विस्फोट होने से इन्डियन मुजाहद्दीन के दो जिहादी दोजख में पहुँच गए ,,, और वह जगह मोमता के घनघोर घनिष्ट मित्र और TMC नेता नुरुल हसन की ही थी |

दो अक्तूबर को वर्धमान में हुए विस्फोट मामले में दो महिलाओं सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. इस विस्फोट में दो संदिग्ध चरमपंथियों की मौत हो गई थी.

सीआईडी, विस्फोट में लश्कर ए तैयबा और हरकर उल जिहादी अल इस्लामी यानी हूजी जैसे चरमपंथी संगठनों के शामिल होने की संभावनाओं की भी जांच कर रही है.

पुलिस के अनुसार सीआईडी ने विस्फोट स्थल से 55 ग्रेनेड, विस्फोटक बनाने की रसायन सामग्री, विस्फोट से जुड़ी किताबें, कुछ जिहादी साहित्य, जिहादी प्रशिक्षण का वीडियो और‪#‎वर्धमान‬ की महत्वपूर्ण ‪#‎जगहों‬ का मैप बरामद किया.

http://timesofindia.indiatimes.com/india/Mamata-govt-admits-to-terror-link-in-Burdwan-blast/articleshow/44544631.cms

http://www.bbc.co.uk/hindi/india/2014/10/141006_burdwan_blast_case_sk

मोमता बानो की पार्टी TMC के दफ्तर में बम बनाते हुए विस्फोट होने से इन्डियन मुजाहद्दीन के दो जिहादी दोजख में पहुँच गए ,,, और वह जगह मोमता के घनघोर घनिष्ट मित्र और TMC नेता नुरुल हसन की ही थी | 

दो अक्तूबर को वर्धमान में हुए विस्फोट मामले में दो महिलाओं सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. इस विस्फोट में दो संदिग्ध चरमपंथियों की मौत हो गई थी.

सीआईडी, विस्फोट में लश्कर ए तैयबा और हरकर उल जिहादी अल इस्लामी यानी हूजी जैसे चरमपंथी संगठनों के शामिल होने की संभावनाओं की भी जांच कर रही है.

पुलिस के अनुसार सीआईडी ने विस्फोट स्थल से 55 ग्रेनेड, विस्फोटक बनाने की रसायन सामग्री, विस्फोट से जुड़ी किताबें, कुछ जिहादी साहित्य, जिहादी प्रशिक्षण का वीडियो और #वर्धमान की महत्वपूर्ण #जगहों का मैप बरामद किया.

http://timesofindia.indiatimes.com/india/Mamata-govt-admits-to-terror-link-in-Burdwan-blast/articleshow/44544631.cms

http://www.bbc.co.uk/hindi/india/2014/10/141006_burdwan_blast_case_sk
Posted in Amar Bangla

TMC कार्यालयों में IM के आतंकी बम बना रहे है .. आज ब्लास्ट में

TMC कार्यालयों में IM के आतंकी बम
बना रहे है .. आज ब्लास्ट में
दो आतंकी खुदा को प्यारे भी हो गये ..
मीडिया और कांग्रेसी, TMC कार्यालयों में IM के आतंकी बम
बना रहे है .. आज ब्लास्ट में
दो आतंकी खुदा को प्यारे भी हो गये ..
मीडिया और कांग्रेसी, आपीए जैसे सेकुलर
सूअर एकदम खामोश है ..यदि ये
घटना किसी हिंदूवादी सन्गठन के ऑफिस में
हुई होती तो ओम थानवी, पिग्गी, केजरीवाल,
जैसे सेकुलर सूअर अपनी छाती कूट कूटकर
किसी खजेले कुत्ते की तरह तडपत ‪#‎आपीए‬ जैसे सेकुलर
सूअर एकदम खामोश है ..यदि ये
घटना किसी हिंदूवादी सन्गठन के ऑफिस में
हुई होती तो ओम थानवी, पिग्गी, केजरीवाल,
जैसे सेकुलर ‪#‎सूअर‬ अपनी छाती कूट कूटकर
किसी खजेले कुत्ते की तरह तडपत

TMC कार्यालयों में IM के आतंकी बम
बना रहे है .. आज ब्लास्ट में
दो आतंकी खुदा को प्यारे भी हो गये ..
मीडिया और कांग्रेसी, TMC कार्यालयों में IM के आतंकी बम
बना रहे है .. आज ब्लास्ट में
दो आतंकी खुदा को प्यारे भी हो गये ..
मीडिया और कांग्रेसी, आपीए जैसे सेकुलर
सूअर एकदम खामोश है ..यदि ये
घटना किसी हिंदूवादी सन्गठन के ऑफिस में
हुई होती तो ओम थानवी, पिग्गी, केजरीवाल,
जैसे सेकुलर सूअर अपनी छाती कूट कूटकर
किसी खजेले कुत्ते की तरह तडपत #आपीए जैसे सेकुलर
सूअर एकदम खामोश है ..यदि ये
घटना किसी हिंदूवादी सन्गठन के ऑफिस में
हुई होती तो ओम थानवी, पिग्गी, केजरीवाल,
जैसे सेकुलर #सूअर अपनी छाती कूट कूटकर
किसी खजेले कुत्ते की तरह तडपत
Posted in Amar Bangla
On the day of Gandhi Jayanti, 2 Indian Mujahideen Jihadis were killed and a third injured critically in West Bengal's Burdwan town.

◉ How ?
They were making IEDs for their RDX explosives when it blew up.

◉ Where ?
In the house of a Trinamool Congress leader Nurul Hasan Choudhury. Also used as regional TMC party HQ. Housed woman and children to avoid suspicion.

◉ What happened when police arrived ?
two women held them off at gunpoint threatening to blow up the house. Bengal police waited politely while the women burnt several documents and vital evidence (instead of tending to their blown up husbands).

◉ What was found after the Jihadi women were overpowered?
Documents and incriminating evidence (linking them to Al-Qaeda and Indian Mujahideen), 55 IEDs and RDX, electronic equipment, maps and SIM cards along with some half-burnt Arabic books

◉ What did Bengal police do with evidence ?
promptly destroyed ALL of it before central investigators(NIA, IB and other central agencies ) could arrive.

◉ What was the plan ?
Blasting away devotees on Dussehera, using powerful RDX explosives
-------------------------------------
TMC is already under police scanner for multi billion rupee Shardha Scam where TMC MP Ahmed Hasan Imran was found to be financier of Bangladeshi terrorist outfit Jamat-e-Islami.

Last month, Al-Qaeda had warned of 'jihad' in India. A warning which Indians took very lightly.
Let's enjoy the borrowed peace while it lasts.

On the day of Gandhi Jayanti, 2 Indian Mujahideen Jihadis were killed and a third injured critically in West Bengal’s Burdwan town.

◉ How ?
They were making IEDs for their RDX explosives when it blew up.

◉ Where ?
In the house of a Trinamool Congress leader Nurul Hasan Choudhury. Also used as regional TMC party HQ. Housed woman and children to avoid suspicion.

◉ What happened when police arrived ?
two women held them off at gunpoint threatening to blow up the house. Bengal police waited politely while the women burnt several documents and vital evidence (instead of tending to their blown up husbands).

◉ What was found after the Jihadi women were overpowered?
Documents and incriminating evidence (linking them to Al-Qaeda and Indian Mujahideen), 55 IEDs and RDX, electronic equipment, maps and SIM cards along with some half-burnt Arabic books

◉ What did Bengal police do with evidence ?
promptly destroyed ALL of it before central investigators(NIA, IB and other central agencies ) could arrive.

◉ What was the plan ?
Blasting away devotees on Dussehera, using powerful RDX explosives
————————————-
TMC is already under police scanner for multi billion rupee Shardha Scam where TMC MP Ahmed Hasan Imran was found to be financier of Bangladeshi terrorist outfit Jamat-e-Islami.

Last month, Al-Qaeda had warned of ‘jihad’ in India. A warning which Indians took very lightly.
Let’s enjoy the borrowed peace while it lasts.