Posted in गौ माता - Gau maata

भगवान कृष्ण ने किस ग्रंथ में कहा है ‘धेनुनामसिम’ मैं गायों में कामधेनु हूं?
श्रीमद् भगवतगीता |
‘चाहे मुझे मार डालो पर गाय पर हाथ न उठाओ’ किस महापुरुष ने कहा था?
बाल गंगाधर तिलक |
रामचंद्र ‘बीर’ ने कितने दिनों तक गौहत्या पर रोक लगवाने के लिए अनशन किया?
70 दिन |
पंजाब में किस शासक के राज्य में गौ हत्या पर मृत्यु दंड दिया जाता था?
पंजाब केसरी महाराज रणजीत सिंह |
गाय के घी से हवन पर किस देश में वैज्ञानिक प्रयोग किया गया?
रूस |
गोबर गैस संयंत्र में गैस प्राप्ति के बाद बचे पदार्थ का उपयोग किस में होता है?
खेती के लिए जैविक (केंचुआ) खाद बनाने में |
मनुष्य को गौ-यज्ञ का फल किस प्रकार होता है?
कत्लखाने जा रही गाय को छुड़ाकर उसके पालन-पोषण की व्यवस्था करने पर |
एक तोला (10 ग्राम) गाय के घी से यज्ञ करने पर क्या बनता है?
एक टन आँक्सीजन |
ईसा मसीहा का क्या कथन था?
एक गाय को मरना, एक मनुष्य को मारने के समान है |
प्रसिद् मुस्लिम संत रसखान ने क्या अभिलाषा व्यक्त की थी?
यदि पशु के रूप में मेरा जन्म हो तो मैं बाबा नंद की गायों के बीच में जन्म लूं |
पं. मदन मोहन मालवीय जी की अंतिम इच्छा क्या थी?
भारतीय संविधान में सबसे पहली धारा सम्पूर्ण गौवंश हत्या निषेध की बने |
भगवान शिव का प्रिय श्री सम्पन्न ‘बिल्वपत्र’ की उत्पत्ति कहा से हुई है?
गाय के गोबर से |
गौवंशीय पशु अधिनियम 1995 क्या है?
10 वर्ष तक का कारावास और 10,000 रुपए तक का जुर्माना |
गाय की रीढ़ में स्थित सुर्यकेतु नाड़ी से क्या होता है?
सर्वरोगनाशक, सर्वविषनाशक होता है |
देशी गाय के एक ग्राम गोबर में कम से कम कितने जीवाणु होते है?
300 करोड़ |
गाय के दूध में कौन-कौन से खनिज पाए जाते है?
कैलिशयम 200 प्रतिशत, फास्फोरस 150 प्रतिशत, लौह 20 प्रतिशत, गंधक 50 प्रतिशत, पोटाशियम 50 प्रतिशत, सोडियम 10 प्रतिशत, पाए जाते है |
‘गौ सर्वदेवमयी और वेद सर्वगौमय है’, यह युक्ति किस पुराण की है?
स्कन्द पुराण |
विश्व की सबसे बड़ी गौशाला का नाम बताइए?
पथमेड़ा, राजस्थान |
गाय के दूध में कौन-कौन से विटामिन पाए जाते है?
विटामिन C 2 प्रतिशत, विटामिन A (आई.क्यू) 174 और विटामिन D 5 प्रतिशत |
यदि हम गायों की रक्षा करेंगे तो गाय हमारी रक्षा करेंगी ‘यह संदेश किस महापरुष का है?
पंडित मदन मोहन मालवीय का |
‘गौ’ धर्म, अर्थ, काम और मोक्ष की धात्री होने के कारण कामधेनु है| इसका अनिष्ट चिंतन ही पराभव का कारण है| यह विचार किनका था?
महर्षि अरविंद का |
भगवान बालकृष्ण ने गायें चराने का कार्य किस दिन से प्रारम्भ किया था?
गोपाष्टमी से |
श्री राम ने वन गमन से पूर्व किस ब्राह्मण को गायें दान की थी?
त्रिजट ब्राह्मण को |
‘जो पशु हां तों कहा बसु मेरो, चरों चित नंद की धेनु मंझारन’ यह अभिलाषा किस मुस्लिम कवि की है?
रसखान |
‘यही देहु आज्ञा तुरुक को खापाऊं, गौ माता का दुःख सदा मैं मिटआऊँ‘ यह इच्छा किस गुरु ने प्रकट की?
गुरु गोबिंद सिंह जी ने |

अरुण शुक्ला

Author:

Buy, sell, exchange old books

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s