Posted in भारत का गुप्त इतिहास- Bharat Ka rahasyamay Itihaas

भाग_मोहन…….!!!!!!!!

बेनजीर भुट्टो , बार बार श्री जगमोहन को भागमोहन (जो डर के मारे कशमीर छोडकर भाग जायेगा) कहकर पुकारती थी । भुट्टो ने कशमीर के गर्वनर श्री जगमोहन साहब के बारे मे और भी ज्यादा नफरत का मुजाहिरा करते हुए कहा था कि हम उसे जग जग, मो मो, हन हन , बना देंगें । (उसके छोेटे छोटे टुकडे कर देंगें) आखिर कुछ तो बात थी उस बंदे मे , जिससे पाकिस्तानी प्रधानमंत्री की भी सुलग रही थी । अपने दूसरे कार्यकाल जनवरी 1990- मई 1990 के बीच कशमीर के गवर्नर रहे जगमोहन ने कशमीरी मिलिटेंसी का दमन बडे ही सख्त और मजबूत हाथो से किया । कशमीरी इतिहास मे सुरक्षा बलो द्वारा तीनो सबसे सख्त एक्शन जगमोहन के दृढ निर्णयो का ही परिणाम थे । 21 जनवरी को Gawkadal मे CRPF ने फायर खोला ,और कशमीरी पंडितो की रक्षा के लिए आक्रामक और भडकाऊ भीड मे से 50 से ज्यादा कशमीरी आतंकी जहन्नुम भेज दिये । कशमीरी दावा करते है "गावकदल " मे 280 लोग मरे थे । 25 जनवरी को हंदवाडा मे BSF ने पंडितो की रक्षार्थ फायर खोलकर 21 को जहन्नुम का दीदार करवाया । 1 मार्च 1990 को जकूरा -टेंगपोरा मे 33 को BSF ने फिर से जन्नत का टिकट पकडाया था । जगमोहन साहब , कशमीर मे सबसे मजबूत और सख्त प्रशासक रहे , उन्होने मुफ्ती मुहम्मद सईद की मक्कारियो से रची चालो का मजबूती से क्रैकडाउन किया था । इसके अलावा वैष्णो माता शिरीन बोर्ड को अधिकारो से लैस करने के अलावा, इंफ्रास्ट्रक्चर और कई प्रशानिक सुधारो को अंजाम दिया था । वर्ष 1993 मे लिखी उनकी किताब My Frozen turbulence in kashmir कशमीरी पंडितो के Exodus को केंद्र बिंदु मे रखकर ही लिखी गई है । कशमीर से पंडितो के पलायन (Exodus ) के आदेश कथित तौर पर जगमोहन ने ही दिये थे । आज तक बेचारे पंडितो की घर वापिसी नही हो सकी । बहुत से लोग जगमोहन पर टीका टिप्पणी करते हुए 20 जनवरी 1990 के Exodus के लिए उन्हे जिम्मेदार ठहराते है , मगर ये भी सच है कि वो Exodus कशमीरी पंडितो की जीवन रक्षा का एक मात्र तरीका था । 4 मई को 93 साल की आयु मे जगमोहन मलहोत्रा साहब का निधन हो गया । जगमोहन कभी भागमोहन नही बने , मगर कशमीरी पंडित आज भी घर से दर बदर है , उनकी आज तक वापिसी नही हो सकी । काबिल ब्यूरोक्रेट , सख्त प्रशासक और जिम्मेदार राजनेता जगमोहन जी को शत शत नमन ....🙏🙏🙏

Author:

Buy, sell, exchange books

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s