Posted in Uncategorized

�घर घर गोबर (गोवर)�
गौ मल को गोबर कहा गया है।संसार में केवल गोबर को ही शुद्ध पवित्र माना गया है जिससे लीपने पर घर आँगन मन्दिर भवन चमक उठते हैं पवित्रता सात्विकता झलकने लगती है।हो भी क्यों न ।क्योंकि गोमय वसते लक्ष्मी। पढते ओर सुनते आये हैं ना।
लेकिन वर्तमान के भवन निर्माण मे गोबर कहीं पीछे छूट गया। व्यवहारिक दृष्टि से देखेंगे तो किसी भी आधुनिक मकान, कार्यालय या बिल्डिंग मे कहीं गोबर नजर नहीं आयेगा। कारण एक ही है मैकाले की शिक्षा पद्धति।
आज सभी दिग्भ्रित हैं, मकान, दफ्तर या किसी भी अन्य निर्माण मे गोबर लेपन का कोई स्थान ही नहीं है। या तो गाय के गोबर मे वो गुण नहीं रहे या आधुनिक भवन निर्माताओं को उस के गुणों की समझ नहीं है। गोबर के गुण कहीं नहीं गये ओर ना ही कभी वो जायेंगे, हाँ मकान बनाने वाले इसे समझ नहीं रहे क्योंकि उनको पाश्चात्य ज्ञान दिया जाता है ओर पाश्चात्य जगत अभी शिशु अवस्था मे है।
मैंने आधुनिक भवन निर्माण मे गोबर का प्रयोग कर के देखा तो मैं ph d रसायन शास्त्र दंग रह गया। क्यों?
क्योंकि गोबर एक ओर रहने के स्थान पर इस के गुण अनेक।
1. घर मे शान्ति होनी चाहिए, यानी अनावश्यक शोर नहीं आना चाहिए, जी बिल्कुल गोबर उसे रोकता है। Sound proof होता है।
2. घर या दफ्तर मे गरमी या सर्दी नहीं लगनी चाहिए ना। जी हाँ गोबर उसे रोकता है। Heat proof means thermal insulation का काम करता है।
3. लूणी, (नमक, रेही, सीलन, सैलाब, शोरा, नूणी आदि) आजकल के भवनों मे एक आम समस्या है, जी गोबर उसको भी रोकने मे मदद करता है।
4. आज जो प्रश्न मुझसे आज का पढा लिखा वर्ग सबसे ज्यादा पुछता है वो है कि मलिक साहब इससे बदबू तो नहीं आती ना, जी नहीं गोबर तो प्राकृतिक वायु शोधक है, बदबू को दूर करता है।
5. तब all out या अन्य जहरीले रसायन युक्त पदार्थ तो थे नहीं, कीटाणु व जीवाणूनाशक का कार्य भी गोवर ही करता था। अतः स्वास्थ्य की दृष्टि से भी हमें गोबर से लीपे भवनों मे ही रहना चाहिए।
असंख्य लाभ हैं जी, सब यहाँ नहीं लिख सकता लेकिन ये गुण जानने के बाद मैंने तो अपने जीवन का मिशन ही बना लिया “घर-घर गो वर”। अगर आप कोई निर्माण कार्य कर करा रहे हैं तो देशी गाय का गोबर मिश्रित वैदिक प्लास्टर जरूर लगवाए, आसपास चल रहा है तो उन्हें अवश्य बताएँ। उपरोक्त लाभ पाएं तथा गौ माता को पुनः आधुनिक अर्थव्यवस्था से जोड़ने मे सहायक बने। आप अगर चाहे तो अपने क्षेत्र मे वैदिक प्लास्टर का व्यापार भी कर सकते हैं।
अधिक जानकारी के लिए आप http://www.vedicplaster.com देखें अथवा
9812054982 या 9719178562 पर फोन करें।
आप सब साथियों से उम्मीद है कि आप सब मेरा इस मिशन मे साथ देंगे। 🤕�
शुभ प्रभात
आप का दोस्त
डॉ शिव दर्शन मलिक।

Author:

Buy, sell, exchange old books

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s