Posted in नहेरु परिवार - Nehru Family, भारत का गुप्त इतिहास- Bharat Ka rahasyamay Itihaas

 वंदे मातरम्aa


​॥ राष्ट्रगीत ‘ वंदे मातरम् ‘ के स्थान पर टागोर रचित जन गण मन क्यू बना ? ॥ 

******* केंद्र सरकार प्रकाशन विभाग द्वारा प्रकाशित Indian Broadcasting पुस्तक अनुसार ———-

स्वतन्त्रता प्राप्ति के पश्चात राज्य संविधान का निर्माण नहीं हुआ था , उस समय जवाहर ने एक All India आकाशवाणी पर अंगत / निजी पत्र लिखा कि जब जब आवश्यकता हो तो राष्ट्रगीत ‘जन गण मन ‘ ही रेडियो पर प्रसारित करे । आकाशवाणी ने पाखंडी जवाहर कि सूचना का पालन करते हुए जन गण मन प्रसारित किया । 

उल्लेखनीय है कि राष्ट्रगीत विषयक कोई निर्णय नहीं हुआ था –मान्यता भी नहीं मिली थी । मात्र स्वमुखी जवाहर के आदेश से बजाया जा रहा था । 

जन गण मन को स्वरबद्ध करने के लिए BBC ने तीन विदेशी संगीतकारो को यह कान दिया , तीन प्रकार कि धुन बनी , जवाहर को एक धुन रुचिकर लगी एवं स्वीकृति भी दी । 

……………. Herbed Mirrill नामक एक ब्रिटिश संगीतकार कि यह धुन है , ब्रिटिश संगीतकार को जवाहर ने अन्य साथियों को विश्वास मे लिए बिना आभार पत्र एवं 500 पाउंड का पुरस्कार दिया । जो कि वंदे मातरम् के समर्थक समग्र प्रजा , सांसद , क्रांतिवीर आदि भी थे एवं यह गीत कि धुन लोकहृदय पर छाई हुई थी तथापि अङ्ग्रेज़ी संस्कृति से प्रभावित जवाहर ने बलपूर्वक जन गण मन हम पर ठोंक दिया । 

सर्वप्रथम जवाहर के ;’प्रियमित्र ‘ जिनहा को दुर्गा एवं मंदिर पर आपत्ति थी किन्तु वह तो पाकिस्तान चला गया था , जवाहर कि हिन्दू विरुद्ध मानसिकता उसके मृत्यु पर्यंत चलती रही । 

[][][] आज हमे अर्थहीन , विदेशी धुन आधारित राष्ट्रगीत बलपूर्वक गाना पड़ता है । जवाहर के आने से देश कि दुर्दशा का प्रारम्भ हुआ उत्तरोत्तर उसके वंशजो ने भी दुर्दशा चालू राखी 2014 मे अंत हुआ । 

——————————–praveen kawa————————-

Posted in वर्णाश्रमव्यवस्था:

ब्राह्मण


​मनु जी मनुस्मृति के श्लोक १२/१०८ में कहते है –

” अनाम्नातेषु धर्मेषु कथ स्यादिति चेभ्दवेत् |

य शिष्टा ब्राह्मणा ब्रूयु: स धर्म: स्यादशन्कित : ||

अर्थात जिन विषयों पर हमने उपदेश नही किया उन पर

यदि संदेह हो जाए कि इसे किस प्रकार करे , तो शिष्ट ब्राह्मण

जिसको धर्म कहे ,निस्संदेह वो धर्म है |

यहा ब्राह्मण -विद्वान ,धर्म प्रवक्ता ,मार्गदर्शक इत्यादि अर्थ

में लक्षित होता है |

अम्बेडकरवादी लोग इसे जन्मना ब्राह्मण के वर्चस्व

के अर्थ में लगा अर्थ का अनर्थ करते है | उस ब्राह्मण के क्या

लक्षण है वो भी देखना चाहिए जिससे जन्मना

जातिवादी ब्राह्मण का स्पष्ट निषेध हो गुण कर्म से

ब्राह्मण का विधान होता है –

तैतरीय शिक्षा-११ और कुछ भेद के साथ

तैतरीय उपनिषद में निम्न श्लोक आता है – ” अथ यदि

ते कर्मविचिकित्सा वा वृत्तविचिकित्सा वा स्यात् ,ये तत्र ब्राह्मणा:

समर्शिन: युक्ता आयुक्ता अलूक्षा धर्मकामा: स्यु: | यथा ते तत्र

वर्तेरन तथा तत्र वर्तेथा: || ”

अर्थ – यदि तुम्हे किसी कर्म या आचार के विषय में

कुछ संदेह हो जाए तो तुम वैसा करो जैसा धर्मात्मा ब्राह्मण करता

है उस ब्राह्मण की पहचान है – ” सब कुछ

सहन करने वाला (अर्थात गाली देने ,पत्थर मारने पर

भी बुरा न माने नाराज न हो क्षमा करने वाला ) धर्म

कार्य में तत्पर ,निठल्ला न बैठने वाला , धर्मकार्यो में लगा रहने वाला

जैसा वो व्यवहार करे वैसा ही तुम भी करो

अर्थात उसका अनुसरण करो |

यहा ब्राह्मण के लक्षण बता दिए है उससे स्पष्ट है कि मनु

का उद्देश्य व्यक्ति को उचित मार्गदर्शक खोज अपने कर्म और

आचार के निर्वाह का उपदेश है न कि जन्मना ब्राह्मण के

वर्चस्व स्थापित करने का |

Posted in छोटी कहानिया - १०,००० से ज्यादा रोचक और प्रेरणात्मक

दो जिगरी दोस्त


दो जिगरी दोस्त 
1k पास एक BMW कार होती है और दूसरे के पास TATA NANO.
एक बार रात को नैनो वाला दोस्त BMW वाले दोस्त को फ़ोन करता है और कहता है कि यार मेरी गाड़ी का पेट्रोल खत्म हो गया है.
तू आ जा और मेरी कार को अपनी कार से बाँध करके पेट्रोल पंप तक मुझे पहुँचा दे. ……..
BMW वाला दोस्त आता है और NANO कार को बाँध कर  कहता है “अगर तुझे लगे मैं तेज़ चल रहा हूँ तो पीछे से डिपर दे देना, ताकि में धीमे हो जाऊँ …..” 
चलते-चलते थोड़ी देर बाद BMW की साइड से तेज रफ़्तार में Audi निकलती है,
तो BMW वाला चिढ़ जाता है व भूल जाता है कि वो NANO को बाँध कर चल रहा है …….
बस फिर क्या था, 
BMW और Audi दोनों में जबर्दस्त रेस लग जाती है.
स्पीड २००+ चली जाती है और दोनों पुलिस बेरिकेट्स तोड़ कर निकल जाते हैं……..
तो पुलिस का सिपाही अपने ऑफ़िसर को फ़ोन करता है और घटना की जानकारी देता है.
तो ऑफिसर पूछता है- गाड़ी कौन कौन सी है?
सिपाही कहता है- “सर, गाड़ियाँ तो दो रेस कर रही हैं,
BMW और Audi,
पर वो छोड़ो सर,

हैरान तो मैं इस बात से हूँ कि रेस BMW और Audi की हो रही है,
पर एक नैनो वाला पीछे से दोनों को ओवर टेकिंग के लिए डिपर पे डिपर मारे जा रहा है …….!!!!!” 

:D:D😆😆😜😜😝😝😂😂