Posted in भारत का गुप्त इतिहास- Bharat Ka rahasyamay Itihaas

विश्वासघात


इतिहास कथन :————–
विश्वासघात एवं इस्लाम
वर्ष 1565 मे सुलतान आदिल शाह ने रामराजा के साथ संधि की थी । आदिलशाह अविश्वासी एवं मूर्तिपूजक का तुमुल विरोधी था । उस ने विजय नगर के आंतरिक मुस्लिमो के साथ षड्यंत्र कर के विश्वासघात के साथ विजयनगर पर आक्रमण किया ।
रामराजा युद्ध जीत रहा था , विजय निश्चित थी किन्तु उच्चापदासीन दो मुस्लिम सेनाधिकारी ने 80.000 सेना के साथ पक्ष परिवर्तन करके आदिलशाह मे सम्मिलित हो गए । साथ ही विजयनगर का पतन हुआ ।
एक प्रति हिन्दू भोले राजा / महाराजा एवं दूसरी ओर विश्वासघाती !!!!

Author:

Buy, sell, exchange old books

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s