Posted in PM Narendra Modi

एक बार जरूर पढ़ेँ मोदी जी


एक बार जरूर पढ़ेँ मोदी जी

का आँखे गिला कर देने वाला सच
.
.
Arvind Kejariwal खुद

IIT से इंजीनीयर रह चुके

हैँ इसके साथ वे सिविल

सर्वीस मेँ अधिकारी थे.

Kejariwal के
पिता भी Electricalइंजीन ीयर
है. Kejariwal की माँ भी प्राचार्य
है. Kejariwal की पत्नी IAS
अधिकारी है.फिर भी वो आम आदमी कैसे
है?

जबकी …Narendra Modi के
पिता गरीब वर्ग से आते है बचपन मेँ
Modi ने अपने पिता के
साथ Railway Station पर ट्रेन
की डिब्बोँ मेँ घूमघूम कर चाय बेचा है, आज
भी उनकी बुढ़ी माँ एक जर्जर घर
मेँरहती है, वो अपने वेतन का 60%
दान करदेते है फिर भी वो आम
आदमी नही है क्योँ?……… ……………
…………..क ुछ लोग बीजेपी और कांग्रेस
में अंतर पूछते हैं। एक छोटा सा अंतर
बताता हूँ, बीजेपी की रैली ‘भारतमाता की जय ,
वन्दे मातरम् व जय हिन्द ‘जैसे नारों के
साथ शुरू व समाप्त
होती हैं …वहीँ कांग्रेस
की रैली ‘सोनिया गाँधी जिंदाबाद व
राहुल गाँधी जिंदाबाद ‘ जैसे नारे से
गूंजती हैं ।

एक छोटा सा सवाल……कई
रैली व कार्यक्रम
में मोदी जी आडवाणी जी व
अन्यबुजुर्गो के पैर छूते हुए दिखे
हैं …..लेकिन ,..क्या आपने
कभी राहुल को कभी किसी रैली में किसी सम्माननीय
बुजुर्ग के पाँव छुते देखा हैं?

………..अंतर
तो है . . . .मोदी अपनी भारी जीत के
बाद उस केशुभाई पटेल से मिलने गए थे
जिसने मोदी को हराने के लिए
अलग पार्टी तक
बना लिया था …..दूसरी ओर केजरीवाल
उससे भी मिलने नहीँ जा सके जिसने
उन्हें पैदा किया अर्थात….अन्ना ।

ऐसा ही घमंड रहा तो आप से तुम और तुम
से तू होते देर नहीं लगेगी ।
.
.
कितना सहमत हैँ आप सब
इस बात से..??

एक बार जरूर पढ़ेँ मोदी जी

का आँखे गिला कर देने वाला सच
.
.
Arvind Kejariwal खुद 

IIT से इंजीनीयर रह चुके

हैँ इसके साथ वे सिविल

सर्वीस मेँ अधिकारी थे.

Kejariwal के
पिता भी Electricalइंजीन ीयर
है. Kejariwal की माँ भी प्राचार्य
है. Kejariwal की पत्नी IAS
अधिकारी है.फिर भी वो आम आदमी कैसे
है?

जबकी ...Narendra Modi के
पिता गरीब वर्ग से आते है बचपन मेँ
Modi ने अपने पिता के
साथ Railway Station पर ट्रेन
की डिब्बोँ मेँ घूमघूम कर चाय बेचा है, आज
भी उनकी बुढ़ी माँ एक जर्जर घर
मेँरहती है, वो अपने वेतन का 60%
दान करदेते है फिर भी वो आम
आदमी नही है क्योँ?......... ...............
..............क ुछ लोग बीजेपी और कांग्रेस
में अंतर पूछते हैं। एक छोटा सा अंतर
बताता हूँ, बीजेपी की रैली 'भारतमाता की जय ,
वन्दे मातरम् व जय हिन्द 'जैसे नारों के
साथ शुरू व समाप्त
होती हैं ...वहीँ कांग्रेस
की रैली 'सोनिया गाँधी जिंदाबाद व
राहुल गाँधी जिंदाबाद ' जैसे नारे से
गूंजती हैं ।

एक छोटा सा सवाल......कई
रैली व कार्यक्रम
में मोदी जी आडवाणी जी व
अन्यबुजुर्गो के पैर छूते हुए दिखे
हैं .....लेकिन ,..क्या आपने
कभी राहुल को कभी किसी रैली में किसी सम्माननीय
बुजुर्ग के पाँव छुते देखा हैं? 

...........अंतर
तो है . . . .मोदी अपनी भारी जीत के
बाद उस केशुभाई पटेल से मिलने गए थे
जिसने मोदी को हराने के लिए
अलग पार्टी तक
बना लिया था .....दूसरी ओर केजरीवाल
उससे भी मिलने नहीँ जा सके जिसने
उन्हें पैदा किया अर्थात....अन्ना ।

ऐसा ही घमंड रहा तो आप से तुम और तुम
से तू होते देर नहीं लगेगी ।
.
.
कितना सहमत हैँ आप सब
इस बात से..??

Author:

Buy, sell, exchange old books

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s