Posted in गौ माता - Gau maata

बकरीद में गौ-हत्या क्यूँ ?


बकरीद में गौ-हत्या क्यूँ ?
1000 साल ‪#‎हिंदुस्तान‬ की जमीं पर रहने के बाद जो मुसलमान ये नहीं समझ पाए कि हिन्दुओं में ‪#‎गाय‬ को पवित्र मान कर उसकी पूजा की जाती है तो कम से कम उसकी कुर्बानी ना दे, वो मुसलमान भला हुन्दुओं के भाई कैसे हो सकते हैं । ये गाय की हत्या इसलिए नहीं करते कि इससे इनके ‪#‎अल्लाह‬ खुश होंगे बल्कि इसलिए करते हैं ताकि ये हिन्दुओं को नीचा दिखा सके ।
त्यौहार तो तुम्हारा ‪#‎बकरीद‬ (बकरा ईद ) है ना कि गौ – ईद, फिर गाय की हत्या क्यूँ ? क्या तुम्हारा अल्लाह तुम्हे यही सिखाता है कि जिस जमीन पर रहो उसके ही संस्कारों की हत्या कर दो ?
हिंदुस्तान में गाय को तब से पवित्र माना जाता है जब से यहाँ सभ्यता ने जन्म लिया । इसमें‪#‎हिन्दू‬ या ‪#‎मुस्लमान‬ होने जैसी बात नहीं । गाय की पूजा करना इस जमीन के संस्कार हैं ।
फिर गौ हत्या क्यूँ ? किसी भी जीव को पवित्र मान कर पूजा करना कोई बुरे संस्कार नहीं हैं जिसे बदला जाना चाहिए ।
तो फिर मुसलमानों को क्या ऐसा लगता है कि उनके ऐसे घिनौने काम से उनके अल्लाह खुश होंगे । मुझे तो नहीं लगता कि दुनिया का कोई भी ‪#‎भगवान‬ इस ढंग से एक इंसान को दुसरे इंसान से लड़ाने वाले काम से खुश होगा और अगर वो खुश होता है तो निश्चित तौर पर वो भगवान नहीं हो सकता , वो सिर्फ ‪#‎शैतान‬ ही हो सकता है ।

Author:

Buy, sell, exchange books

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s