Posted in हिन्दू पतन

श्री राम का जन्म स्थान तम्बू में – स्वीकार है


श्री राम का जन्म स्थान तम्बू में – स्वीकार है
कैलाश मानसरोवर जाने के लिए चीन की अनुमति -स्वीकार है
कश्मीर में अलग संविधान और अलग झंडा – स्वीकार है
सभी कश्मीरी पंडितो को अपनी जन्मभूमि से खदेड़ दिया गया – स्वीकार है
लाखो बोडो को आसाम में अपनि जन्मभूमि से खदेड़ दिया गया – स्वीकार है
वंदे मातरम की जगह जण-गण-मन(जोर्ज पंचम का स्वागत गीत) – स्वीकार है
संस्कृत की उपेक्षा और उर्दू का मान सम्मान – स्वीकार है
तेजोमहालय शिव मंदिर का ताजमहल कब्र रूप में – स्वीकार है
ध्रुव स्तंभ का क़ुतुब मीनार के रूप में – स्वीकार है
सनातन भारत को इंडिया के नाम से जाना जाए – स्वीकार है
पाचवी पास वेटर के द्वारा देश का नियंत्रण -स्वीकार है
पराठा बनाने वाली को राष्ट्रपति रूप में – स्वीकारहै
सुभाष चंद्र बोस की जिन्दा होने
की जानकारी छुपाने वाले वर्तमान राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी – स्वीकार है
डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी का कश्मीर की जेल में
रहस्मय निधन, पोस्ट-मोर्टेम की जरुरत नहीं – स्वीकार है
भाई राजीव दीक्षित जी का रहस्मय निधन,
पोस्टमोर्टेम की जरुरत नहीं – स्वीकार है
लाल बहादुर शास्त्री जी का रहस्मय निधन,
पोस्ट-मोर्टेम की जरुरत नहीं – स्वीकार है
सुभाष चंद्र बोस आजादी के बाद १९८५ तक चुप
कर गुमनाम जिंदगी जीते रहे – स्वीकार है
चंद्रगुप्त सीरियल का रहस्यमय ढंग से बंद होना – स्वीकार है
शिवाजी सीरियल का रहस्यमय ढंग से बंद होना – स्वीकार है
पोर्न स्टार सनी लिओन की फिल्म का खुले आम प्रदर्शन – स्वीकार है
————— ————— ——-
भविष्य में :
कश्मीर का विभाजन – ?
आसाम का विभाजन – ?
केरल का विभाजन – ?
और क्या क्या स्वीकार करने वाले है हम भारतीय ?
बस अब बहुत हुआ स्वीकार अब सिर्फ हिंदुत्व की रक्षा होगी..
जय जय श्री राम

Author:

Buy, sell, exchange old books

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s