Posted in Kashmir

जब देश का कानून जम्मू-कश्मीर में लागूनहीं होता तो वहाँ आई बाढ़को राष्ट्रीयआपदा क्यों घोषित की जाये ?


जब देश का कानून जम्मू-कश्मीर में लागूनहीं होता तो वहाँ आई बाढ़को राष्ट्रीयआपदा क्यों घोषित की जाये ?
अब कयों नहीं कहते ये बाप-बेटे की हम पाकिस्तान से मदद ले लेंगे !!!
अब कहाँ गएवो वीर नव जवान जो वहाँ की सेना पेपत्थर फेंकते थे ?
कहाँ गए वो हरामखोरतिरंगा जलाने वाले ?
कहा गएवो हरामखोर वन्दे मातरम नहीं गाने वाले।
कहा है आज सैय्यद अली गिलानी और यासीनमलिकजो जम्मू कश्मीर के लिए नापाकआवाजउठाते थे।
किस बिल में छुप गए हैया कश्मीर के सैलाब ने उनसे आपना बदला लिया है।
कश्मीरी पंडितो के साथ जो अन्यायहुआवोह अब इस पस्च्याताप के साथ केउनको वहपुनर्वसन कराया जाय।यही प्रायश्चित हैसैय्यदअली गिलानी और यासीनमलिक और नापाक सोच वालेअलगाववादी मुस्लिम के लिए ये खासशेरजिन जवानों पे फेंकते थे पत्थर ….आजवही तुम्हारे गुलिस्तां बचा रहे है !!
कहाँ गयेगीदड़ों के वो झुण्ड!! आज ये ही शेर-ए-हिंदुस्तान तेरे काम आ रहे ह !
नमनभारतीय जवानो को..

Advertisements

Author:

Hello, Harshad Ashodiya I have 12,000 Hindi, Gujarati ebooks

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s