Posted in Nehru Family

Rajgadi


21 hrs · 
 
1971 में कांग्रेस को 352 सीटें मिली थी ,दुसरे नंबर पर 25 सीट के साथ माकपा थी , 
कांग्रेस ने उसे विपक्ष के नेता के तौर पर मान्यता नहीं दी थी......

1980 में दुसरे नंबर पर 41 सीटो के साथ चरण सिंह की जनता पार्टी थी , 
लेकिन कांग्रेस ने उसे विपक्ष के नेता का पद नहीं दिया था........

1984 में तेदेपा को 30 सीट मिली थी , 
पर कांग्रेस ने उसे भी विपक्ष के नेता का पद नहीं दिया था.......

और आज त्याग की मूर्ति ने 44 सीट होने के वावजूद विपक्ष के नेता के पद के लिए लोकसभा स्पीकर को पत्र लिखा, 
कहा की 10% वाला कोई नियम नहीं है ...... नहीं दोगे तो हम कोर्ट जाएँगे॥

नेता विपक्ष ... यानी केन्द्रीय केबिनेट मंत्री का दर्जा .. लालबत्ती .. आठ लाख सेलेरी व अन्य भत्ते .. तीस लोगो का स्टाफ.. संसद भवन में ऑफिस और अटैच रेस्टरूम ... चीफ विजिलेंस कमिशनर, मुख्य न्यायधीश, मुख्य चुनाव आयुक्त, टेलीकाम रेगुलेटरी बोर्ड, तथा कई अन्य महत्वपूर्ण बोर्ड, निगम आयोग आदि के चेयरमैन की नियुक्ति के लिए सर्च कमेटी में सदस्य ... मुफ्त विदेश यात्रा के हकदार ...

अब समझ में आया की प्रधानमंत्री पद का तथाकथित त्याग करने वाली "त्याग की मूर्ति" सोनिया जी नेता विपक्ष के पद के लिए क्यों किसी जल बिन मछली की तरह तडप रही है।।

1971 में कांग्रेस को 352 सीटें मिली थी ,दुसरे नंबर पर 25 सीट के साथ माकपा थी , 
कांग्रेस ने उसे विपक्ष के नेता के तौर पर मान्यता नहीं दी थी……

1980 में दुसरे नंबर पर 41 सीटो के साथ चरण सिंह की जनता पार्टी थी , 
लेकिन कांग्रेस ने उसे विपक्ष के नेता का पद नहीं दिया था……..

1984 में तेदेपा को 30 सीट मिली थी , 
पर कांग्रेस ने उसे भी विपक्ष के नेता का पद नहीं दिया था…….

और आज त्याग की मूर्ति ने 44 सीट होने के वावजूद विपक्ष के नेता के पद के लिए लोकसभा स्पीकर को पत्र लिखा, 
कहा की 10% वाला कोई नियम नहीं है …… नहीं दोगे तो हम कोर्ट जाएँगे॥

नेता विपक्ष … यानी केन्द्रीय केबिनेट मंत्री का दर्जा .. लालबत्ती .. आठ लाख सेलेरी व अन्य भत्ते .. तीस लोगो का स्टाफ.. संसद भवन में ऑफिस और अटैच रेस्टरूम … चीफ विजिलेंस कमिशनर, मुख्य न्यायधीश, मुख्य चुनाव आयुक्त, टेलीकाम रेगुलेटरी बोर्ड, तथा कई अन्य महत्वपूर्ण बोर्ड, निगम आयोग आदि के चेयरमैन की नियुक्ति के लिए सर्च कमेटी में सदस्य … मुफ्त विदेश यात्रा के हकदार …

अब समझ में आया की प्रधानमंत्री पद का तथाकथित त्याग करने वाली “त्याग की मूर्ति” सोनिया जी नेता विपक्ष के पद के लिए क्यों किसी जल बिन मछली की तरह तडप रही है।।

 
UnlikeUnlike ·  · 
Advertisements

Author:

Hello, Harshad Ashodiya I have 12,000 Hindi, Gujarati ebooks

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s