Posted in Uncategorized

प्रियंका रोबर्ट शादी का कारण


1-प्रियंका रोबर्ट  शादी   का  कारण 

रॉबर्ट  और  प्रियंका   की  शादी   सन  1997   में  हुई  थी .लेकिन  अगर कोई  रॉबर्ट   को ध्यान  से देखे तो यह बात  सोचेगा कि सोनिया जैसी   चालाक  और  घाट  घाट  पानी  पीने  वाली  औरत  ने  रॉबर्ट जैसे  कुरूप  और  साधारण   व्यक्ति  से  प्रियंका की  शादी कैसे  करवा   दी ? क्या उसे प्रियंका   के लिए   कोई उपयुक्त  वर   नहीं  मिला  , और यह शादी जल्दी में   और चुपचाप  क्यों   की गयी .  वास्तव  में   सोनिया ने  रॉबर्ट  से  प्रियंका  की  शादी अपनी  पोल  खुलने  के  डर  से की  थी .  क्योंकि  जिस  समय  सोनिया इंगलैंड में एक कैंटीन   में  बार  गर्ल  थी .  उसी  समय   उसी  जगह  रोबट की  माँ  मौरीन  (Maureen) भी  यही काम  करती  थी . मौरीन को  सोनिया   और  माधव राव  सिंधिया  की  रास  लीला   की  बात  पता  थी ,जब वह उसी  कैंटीन  सोनिया उनको शराब   पिलाया  करती  थी .मौरीन  यह  भी  जानती  थी कि  किन किन  लोगों  के साथ  सोनिया  के अवैध  सम्बन्ध   थे .जब  सोनिया  राजिव  गांन्धी  के शादी  करके  दिल्ली   आ  गयी , तो  कुछ  समय बाद  मौरीन   भी दिल्ली  में  बस गयी . मौरीन  जानती थी कि सोनिया  सत्ता   के लिए  कुछ  भी  कर  सकती   है , क्योंकि जो भी  व्यक्ति उसके खतरा  बन  सकता  था  सोनिया ने उसका पत्ता  साफ  कर  दिया  , जैसे  संजय  गांधी , माधव  राव  सिंधिया  , राजेश  पायलेट  ,जितेन्द्र  प्रसाद  ,  बाल योगी , यहाँ तक  लोग तो  यह भी  शक  है कि  राजीव   गांधी  की हत्या में  सोनिया का  भी हाथ   है , वर्ना  वह अपने  पति  के हत्यारों   को  माफ़ क्यों  कर देती ?
चूँकि  मौरीन  का पति  और रॉबर्ट  का  पिता  राजेंदर  वडरा   पुराना जनसंघी   था , और  सोनिया  को डर  था कि अगर  अपने पति के  दवाब ने  मौरीन  अपना मुंह   खोल  देगी  तो मुझे भारत  पर  हुकूमत  करने  और अपने  नालायक  कुपुत्र  राहुल  को प्रधान मंत्री   बनाने में  सफलता  नहीं    मिलेगी .इसी  लिए  सोनिया ने मौरीन   के लडके रॉबर्ट  की शादी  प्रियंका  से करवा   दी .

2-जैसी  माँ  वैसी  बेटी 
 इस बात से  कोई  भी व्यक्ति  इनकार  नहीं कर सकता कि   जैसे  गुण  माँ  में  होते हैं  , वैसे  ही गुण  बेटी में  पाए  जाते हैं  .इसलिए जैसे सोनिया   अपने    कुपुत्र     के  सहारे  सत्ता  पर  एकाधिकार    बनाये  रखना  चाहती  है , वैसे ही  शादी के बाद  प्रियंका ने   पति  साथ  संपत्ति  पर  एकाधिकार  जमानेके लिए वडरा   परिवार के  सभी  सदस्यों   को अपने  रास्ते  से   हटा  दिया .राजेंदर  वडरा   के  दो  पुत्र  , रिचार्ड  और रॉबर्ट  और एक  पुत्री  मिशेल   थे . और  प्रियंका  की शादी  के  बाद   सभी  एक एक  कर  मर गए    या   मार दिए  गए  .जैसे ,   मिशेल ( Michelle )सन 2001  में  कार  दुर्घटना  में  मारी  गयी , रिचार्ड ( Richard )ने  सन 2003  में  आत्मह्त्या   कर ली . और प्रियंका   के ससुर सन  2009  में  एक  मोटेल  में  मरे हुए  पाए  गए  थे .   लेकिन  इनकी  मौत के  कारणों  की  कोई  जाँच नहीं  कराई गयी ,और  इसके बाद  सोनिया ने  रॉबर्ट  को  राष्ट्रपति  और  प्रधान मंत्री   के बराबर का दर्जा  इनाम के तौर पर दे दिया  . तब  इस  अधिकार को   पर जिस  रॉबर्ट  को कोई  पडौसी  भी नहीं  जानता  था , उसने  मात्र  आठ  महीनों   में  करोड़ों   की संपत्ति  बना  ली  ,और कई  कंपनियों   का मालिक   बन गया , साथ ही   सैकड़ों  एकड़  कीमती  जमीने भी  हथिया   लीं .जिनका  विवरण  इस  प्रकार   है

3-रॉबर्ट की  कंपनियाँ 
आज  से करीब  15 साल  पहले  रॉबर्ट  ने ' आर्टेक्स -Artex "   नाम से  एक  फर्म   बनायीं  थी .जो हैडीक्राफ्ट    की  चीजों  का   व्यापर  करती  थी  .  लेकिन  इस से कोई  खास  कमाई   नहीं  होती थी . लेकिन  नवम्बर2007  से लेकर  जून 2008   तक सिर्फ  आठ  ही  महीनों में रॉबर्ट  पांच  बड़ी  बड़ी  कंपनियों   का  मालिक  बन  गया ,जिनका ब्यौरा   इस  प्रकार   है ,
1.स्काई  लाईट  होस्पेटीलिटी  प्रा . लि (Sky Light Hospitality). स्थापना  1  नवम्बर  2007 .पूंजी   5  लाख 
2.स्काई  लाईट  रियल्टी प्रा .लि (Sky Light Realty( .स्थापना  16 नवम्बर   2007 . पूंजी  5  लाख 
3.नार्थ  इण्डिया आई टी   पार्क   प्रा .लि .(North India IT Parks) स्थापना  19  जून  2008 . पूंजी  25  लाख 
4.रियल  अर्थ  एस्टेट  प्रा .लि .(Real Earth Estates ) स्थापना  18  फरवरी  2008  पूंजी  10  लाख  
5.ब्ल्यू  ब्रीज  ट्रेडिंग  प्रा . लि (Blue Breeze Trading )स्थापना  1  नवम्बर  2007  पूंजी  5  लाख
इस विवरण   के अनुसार  रॉबर्ट  वडरा  के  पास  केवल  40  लाख   रुपये  की पूंजी  थी  . तब इतनी सी  पूंजी से उसने  करोड़ों  की संपत्ति कैसे अर्जित कर ली ? जिनका विवरण   इस  प्रकार है
4-रॉबर्ट की  संपत्तियां 
लगता है कि  रॉबर्ट  वडरा  ने  प्रियंका  से नहीं    नोट  छापने की  मशीन  से शादी   की   थी ,जभी तो  केवल  चालीस  लाख की  पूंजी से  करोड़ों  की  जमीने  और संपत्ति  खरीद  डाली  . जिन में से जिनके बारे में लोगों ने पता कर लिया   है उनका   विवरण यह है ,जो उसकी  बैलेंस  शीट    में दिया  गया है ,
1.दिल्ली   की  हिल्टन गार्डन इन  में पचास  प्रतिशत  हिस्सा  -  कीमत 31.7  करोड़   रूपया .
2.गुड़गाँव  में 10000   वर्गफीट का  फ़्लैट   कीमत  89  लाख  रुपये 
3.गुड़गाँव  के डी एल  ऍफ़  के मेग्नोलिया   में 7  फ़्लैट   कीमत 5.2   करोड़  रुपये 
4-दिल्ली के  डी  एल ऍफ़  के कैपिटल  ग्रीन  में 1  फ़्लैट   कीमत  5 करोड़  रुपये 
5-दिल्ली के   ग्रेटर  कैलाश में  1 फ़्लैट   कीमत 1.2   करोड़  रुपये 
6.बीकानेर में  161  एकड़   जमीन कीमत  1.2   करोड़  रुपये 
7.बीकानेर में   प्लाट क्षेत्रफल150    एकड़ 2.43 कीमत  करोड़  रुपये 
8.मानेसर   में  जमीन  कीमत  15.38  करोड़  रुपये 
9.महाराष्ट्र  के पनवेल  में  जमीन  कीमत  4.2   करोड़  रूपये 
10.गुड़गाँव  में  जमीन  कीमत 4  करोड़  रुपये 
11.हसन  पुर  में जमीन   कीमत 76  लाख   रुपये 
12.हरियाणा   में जमीन  कीमत 95  लाख  रुपये 
सोनिया    का  दामाद  यानि  प्रियंका  का पति  होने  का   क्या  मतलब  होता   है  ,यह  रोबर्ट  वडरा के  जीवन  शैली  के स्तर से और उसकी  आठ  महीने की  लगभग  चालीस  करोड़ की  संपत्ति  से  साफ़  झलकता है ,  कुछ    साल पहले जो व्यक्ति रेल का   टिकट  तक   नहीं  खरीद  सकता  था , आज बड़ी बड़ी  लक्जरी   कारों   में  शान से  घूमता  रहता   है .पहले  जो व्यक्ति   किरणे वाले का  उधार   समय पे नहीं   चूका सकता  था  , आज  रोज  बड़ी  बड़ी   महगी  पार्टियाँ    देता  रहता है .इन सभी  तथ्यों   से  एक ही  सवाल  उठता   है कि दुनिया की  सबसे  बड़ी  धूर्त  और षडयंत्र कारी   सोनिया  को रॉबर्ट  में  कौन सी   खूबी  दिखाई दी , जिस से प्रभावित होकर  उसने  अचानक  अपनी लड़की  की शादी  रॉबर्ट   वडरा   से  करा  दी . कहीं  ऐसा तो नहीं  कि  रॉबर्ट  वडरा की  माँ  मौरीन  ने  सोनिया  की  कमजोर  नस   को  दबा  दिया हो .  जिस  से  सोनिया  की  भारत  की  तानाशाह   और राहुल  को देश  का प्रधानमंत्री   बनाने की  योजना खटाई  में  पड़  सकती   थी .भले  आज  यह  बात  रहस्य के गर्भ में छुपी  हो . लेकिन   एक दिन  सोनिया   का  भंडा जरुर  फूट   जायेगा .

1-प्रियंका रोबर्ट शादी का कारण

रॉबर्ट और प्रियंका की शादी सन 1997 में हुई थी .लेकिन अगर कोई रॉबर्ट को ध्यान से देखे तो यह बात सोचेगा कि सोनिया जैसी चालाक और घाट घाट पानी पीने वाली औरत ने रॉबर्ट जैसे कुरूप और साधारण व्यक्ति से प्रियंका की शादी कैसे करवा दी ? क्या उसे प्रियंका के लिए कोई उपयुक्त वर नहीं मिला , और यह शादी जल्दी में और चुपचाप क्यों की गयी . वास्तव में सोनिया ने रॉबर्ट से प्रियंका की शादी अपनी पोल खुलने के डर से की थी . क्योंकि जिस समय सोनिया इंगलैंड में एक कैंटीन में बार गर्ल थी . उसी समय उसी जगह रोबट की माँ मौरीन (Maureen) भी यही काम करती थी . मौरीन को सोनिया और माधव राव सिंधिया की रास लीला की बात पता थी ,जब वह उसी कैंटीन सोनिया उनको शराब पिलाया करती थी .मौरीन यह भी जानती थी कि किन किन लोगों के साथ सोनिया के अवैध सम्बन्ध थे .जब सोनिया राजिव गांन्धी के शादी करके दिल्ली आ गयी , तो कुछ समय बाद मौरीन भी दिल्ली में बस गयी . मौरीन जानती थी कि सोनिया सत्ता के लिए कुछ भी कर सकती है , क्योंकि जो भी व्यक्ति उसके खतरा बन सकता था सोनिया ने उसका पत्ता साफ कर दिया , जैसे संजय गांधी , माधव राव सिंधिया , राजेश पायलेट ,जितेन्द्र प्रसाद , बाल योगी , यहाँ तक लोग तो यह भी शक है कि राजीव गांधी की हत्या में सोनिया का भी हाथ है , वर्ना वह अपने पति के हत्यारों को माफ़ क्यों कर देती ?
चूँकि मौरीन का पति और रॉबर्ट का पिता राजेंदर वडरा पुराना जनसंघी था , और सोनिया को डर था कि अगर अपने पति के दवाब ने मौरीन अपना मुंह खोल देगी तो मुझे भारत पर हुकूमत करने और अपने नालायक कुपुत्र राहुल को प्रधान मंत्री बनाने में सफलता नहीं मिलेगी .इसी लिए सोनिया ने मौरीन के लडके रॉबर्ट की शादी प्रियंका से करवा दी .

2-जैसी माँ वैसी बेटी
इस बात से कोई भी व्यक्ति इनकार नहीं कर सकता कि जैसे गुण माँ में होते हैं , वैसे ही गुण बेटी में पाए जाते हैं .इसलिए जैसे सोनिया अपने कुपुत्र के सहारे सत्ता पर एकाधिकार बनाये रखना चाहती है , वैसे ही शादी के बाद प्रियंका ने पति साथ संपत्ति पर एकाधिकार जमानेके लिए वडरा परिवार के सभी सदस्यों को अपने रास्ते से हटा दिया .राजेंदर वडरा के दो पुत्र , रिचार्ड और रॉबर्ट और एक पुत्री मिशेल थे . और प्रियंका की शादी के बाद सभी एक एक कर मर गए या मार दिए गए .जैसे , मिशेल ( Michelle )सन 2001 में कार दुर्घटना में मारी गयी , रिचार्ड ( Richard )ने सन 2003 में आत्मह्त्या कर ली . और प्रियंका के ससुर सन 2009 में एक मोटेल में मरे हुए पाए गए थे . लेकिन इनकी मौत के कारणों की कोई जाँच नहीं कराई गयी ,और इसके बाद सोनिया ने रॉबर्ट को राष्ट्रपति और प्रधान मंत्री के बराबर का दर्जा इनाम के तौर पर दे दिया . तब इस अधिकार को पर जिस रॉबर्ट को कोई पडौसी भी नहीं जानता था , उसने मात्र आठ महीनों में करोड़ों की संपत्ति बना ली ,और कई कंपनियों का मालिक बन गया , साथ ही सैकड़ों एकड़ कीमती जमीने भी हथिया लीं .जिनका विवरण इस प्रकार है

3-रॉबर्ट की कंपनियाँ
आज से करीब 15 साल पहले रॉबर्ट ने ‘ आर्टेक्स -Artex ” नाम से एक फर्म बनायीं थी .जो हैडीक्राफ्ट की चीजों का व्यापर करती थी . लेकिन इस से कोई खास कमाई नहीं होती थी . लेकिन नवम्बर2007 से लेकर जून 2008 तक सिर्फ आठ ही महीनों में रॉबर्ट पांच बड़ी बड़ी कंपनियों का मालिक बन गया ,जिनका ब्यौरा इस प्रकार है ,
1.स्काई लाईट होस्पेटीलिटी प्रा . लि (Sky Light Hospitality). स्थापना 1 नवम्बर 2007 .पूंजी 5 लाख
2.स्काई लाईट रियल्टी प्रा .लि (Sky Light Realty( .स्थापना 16 नवम्बर 2007 . पूंजी 5 लाख
3.नार्थ इण्डिया आई टी पार्क प्रा .लि .(North India IT Parks) स्थापना 19 जून 2008 . पूंजी 25 लाख
4.रियल अर्थ एस्टेट प्रा .लि .(Real Earth Estates ) स्थापना 18 फरवरी 2008 पूंजी 10 लाख
5.ब्ल्यू ब्रीज ट्रेडिंग प्रा . लि (Blue Breeze Trading )स्थापना 1 नवम्बर 2007 पूंजी 5 लाख
इस विवरण के अनुसार रॉबर्ट वडरा के पास केवल 40 लाख रुपये की पूंजी थी . तब इतनी सी पूंजी से उसने करोड़ों की संपत्ति कैसे अर्जित कर ली ? जिनका विवरण इस प्रकार है
4-रॉबर्ट की संपत्तियां
लगता है कि रॉबर्ट वडरा ने प्रियंका से नहीं नोट छापने की मशीन से शादी की थी ,जभी तो केवल चालीस लाख की पूंजी से करोड़ों की जमीने और संपत्ति खरीद डाली . जिन में से जिनके बारे में लोगों ने पता कर लिया है उनका विवरण यह है ,जो उसकी बैलेंस शीट में दिया गया है ,
1.दिल्ली की हिल्टन गार्डन इन में पचास प्रतिशत हिस्सा – कीमत 31.7 करोड़ रूपया .
2.गुड़गाँव में 10000 वर्गफीट का फ़्लैट कीमत 89 लाख रुपये
3.गुड़गाँव के डी एल ऍफ़ के मेग्नोलिया में 7 फ़्लैट कीमत 5.2 करोड़ रुपये
4-दिल्ली के डी एल ऍफ़ के कैपिटल ग्रीन में 1 फ़्लैट कीमत 5 करोड़ रुपये
5-दिल्ली के ग्रेटर कैलाश में 1 फ़्लैट कीमत 1.2 करोड़ रुपये
6.बीकानेर में 161 एकड़ जमीन कीमत 1.2 करोड़ रुपये
7.बीकानेर में प्लाट क्षेत्रफल150 एकड़ 2.43 कीमत करोड़ रुपये
8.मानेसर में जमीन कीमत 15.38 करोड़ रुपये
9.महाराष्ट्र के पनवेल में जमीन कीमत 4.2 करोड़ रूपये
10.गुड़गाँव में जमीन कीमत 4 करोड़ रुपये
11.हसन पुर में जमीन कीमत 76 लाख रुपये
12.हरियाणा में जमीन कीमत 95 लाख रुपये
सोनिया का दामाद यानि प्रियंका का पति होने का क्या मतलब होता है ,यह रोबर्ट वडरा के जीवन शैली के स्तर से और उसकी आठ महीने की लगभग चालीस करोड़ की संपत्ति से साफ़ झलकता है , कुछ साल पहले जो व्यक्ति रेल का टिकट तक नहीं खरीद सकता था , आज बड़ी बड़ी लक्जरी कारों में शान से घूमता रहता है .पहले जो व्यक्ति किरणे वाले का उधार समय पे नहीं चूका सकता था , आज रोज बड़ी बड़ी महगी पार्टियाँ देता रहता है .इन सभी तथ्यों से एक ही सवाल उठता है कि दुनिया की सबसे बड़ी धूर्त और षडयंत्र कारी सोनिया को रॉबर्ट में कौन सी खूबी दिखाई दी , जिस से प्रभावित होकर उसने अचानक अपनी लड़की की शादी रॉबर्ट वडरा से करा दी . कहीं ऐसा तो नहीं कि रॉबर्ट वडरा की माँ मौरीन ने सोनिया की कमजोर नस को दबा दिया हो . जिस से सोनिया की भारत की तानाशाह और राहुल को देश का प्रधानमंत्री बनाने की योजना खटाई में पड़ सकती थी .भले आज यह बात रहस्य के गर्भ में छुपी हो . लेकिन एक दिन सोनिया का भंडा जरुर फूट जायेगा .

Author:

Buy, sell, exchange old books

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s